29 मई, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

उसने जबरन मेरे साथ दुष्कर्म करना शुरू कर दिया, जब मैं गर्भवती हो गई तो उन लोगों ने मुझे…

balatkar

अखिलानंद मिश्रा की रिपोर्ट

गोपालगंज ,29 दिसम्बर। गोपालगंज जिला के बरौली थाना क्षेत्र के एक गांव में बाप ने बाप-बेटी के रिश्ते को शर्मसार कर दिया और बेटी के साथ बलात्कार किया। एक साल से वह अपनी बेटी को नोंचता रहा। उस लड़की पर तब एक और बड़ा पहाड़ टूटा जब वह गर्भवती हो गई। दुर्भाग्यजनक बात यह रही कि जब बेटी ने अपनी मां को उस की पत्नी को इसकी जानकारी दी तो मां ने बेटी को ही फटकार लगाई। साथ ही चुप रहने की सलाह दी। हालांकि बार-बार किए गए बलात्कार से बेटी गर्भवती हो गई तो लोकलाज के डर से लड़की को गोरखपुर लेकर चली गई।

युवती की जुबानी उसकी कहानी

मैं सीवान के जामो बाजार के लालाहाता गांव की निवासी हूँ। मैं अपनी मां के साथ अक्सर लछवार मंदिर में पूजा-अर्चना के लिए आती-जाती थी। करीब पांच वर्ष पहले मेरी मां की मुलाकात बरौली थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव के रहने वाले मनोज यादव व उसकी पत्नी शारदा उर्फ काजल कुमारी से हो गई। उन लोगो ने मेरी मां को झांसे में लेकर मनोज व उसकी पत्नी ने मुझे बेटी बनाकर रखने की बात कही। उसने मां से बताया कि वह शराब बेचने का कारोबार करता है। मेरी मां ने मुझे उनके हवाले कर दिया। करीब चार वर्ष ठीक बीता। उसके बाद उसने जबरन मेरे साथ दुष्कर्म करना शुरू कर दिया। यह बात मैंने उसकी पत्नी को बतायी। इसके बाद भी मनोज नहीं माना और मेरे साथ आए दिन दुष्कर्म करता रहा, जब मैं गर्भवती हो गई तो उन लोगों ने मुझे घर से निकाल दिया। यह बात मैने अपनी मां से बतायी तो वह लोकलाज के डर से मुझे गोरखपुर लेकर चली गई। वहां चेकअप करवाया, इसके बाद मुझे लेकर घर लौटने लगी। इसी दौरान मैंने ट्रेन से कूद कर आत्महत्या करने की प्रयास किया परंतु मैं बच गई। जीआरपी ने मेरा संस्था की देखरेख में इलाज करवाया। वहां मेरे बयान पर प्राथमिकी दर्ज हुई। केस के ट्रांसफर होने में एक वर्ष का समय लग गया। बुधवार को मैं सरजू देवी ‘‘विकलांग प्रशिक्षण संस्थान के मंत्र्री’’ के साथ महिला थाना पहुंची। जहां मैने मनोज व शारदा के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई। महिला थानाध्यक्ष सरिता कुमारी ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर छापेमारी जारी है।खबर लिखे जाने तक किसी की गिरफ्तारी की सुचना नहीं है।

ये भी पढे़ं:-   वार्ड मेम्बर अगर प्रयास करे तो बिना मुखिया की मदद के अपने वार्ड का विकास कर सकता है..

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME