21 अगस्त, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मिथिला राज्य की मांग को लेकर राजधानी दिल्ली में हल्ला बोल रैली

newsofbihar-3

पटना, 26 सितम्बर। मिथिला राज्य की मांग के समर्थन में रविवार को दिल्ली के जंतर मंतर में मिथिलाराज्य हल्लाबोल रैली का आयोजन किया गया। बताया जाता है कि आयोजित कार्यक्रम को मनोज झा की अध्यक्षता तथा बीरबल यादव के नेतृत्व में संचालित किया गया। कार्यक्रम में मिथिला राज्य से सम्बंधित सांस्कृतिक धरोहर, ऐतिहासिक धरोहर, तथा शैक्षणिक व्यवस्था को लेकर चर्चा किया गया। उपस्थित कार्यकर्ताओं ने बताया कि रैली का मुख्य उद्देश्य बिहार के मिथिला क्षेत्र सहित दिल्ली में रह रहे मैथिलों को मिथिलाराज्य के मुद्दों से अवगत कराना है। कार्यक्रम के उपरान्त बिहार के मधुबनी तथा स्थानीय मंगोलपुरी में हुए अलग अलग हादसों में मरने वालों की आत्मा की शांति के लिए मौन धारण कर शोक प्रकट किया गया।

उक्त मंच की अध्यक्षता कर रहे मनोज झा ने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को धन्यवाद् ज्ञापन सौंपते हुए मिथिला राज्य के प्रति सजग रहने तथा आन्दोलनकारियों को प्रेरित करने का निर्देश दिया। वहीं कार्यक्रम समापन के उपरांत रामबाबू सिंह ने कविता गायन कर लोगों का मनोरंजन भी किया। कार्यक्रम में बिहार के दरभंगा, सहरसा, सीतामढ़ी, मधेपुरा, खगड़िया, सुपौल सहित कई जिलों के लोग मौजूद थे। साथ ही मौके पर मिथिला राज्य निर्माण सेना के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री शरत झा, मिथिला स्टूडेंट यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश मिश्र, अखिल भारतीय मिथिला पार्टी के युवा नेता रोहित यादव, अनिल अजनबी, रामसेवक मुखिया, दुनिलाल यादव, भगवत यादव, रंजीत लाल दास, संतोष झा, हेमंत झा आदि गणमान्य उपस्थित थे। कार्यक्रम के बारे में बीरबल यादव ने बताया कि 60 फीसदी युवाओं की उपस्थिति से मिथिला आंदोलन को और ताकत मिली है। दिल्ली में मौजूद करीब-करीब तमाम मैथिल संस्थान के प्रतिनिधियों ने कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

ये भी पढे़ं:-   मांझी की पार्टी के एक नेता पर 8 साल की बच्ची के साथ रेप का आरोप !

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME