05, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

दरभंगा: 8-9 नवंबर को मिथिला राज्य की मांग को लेकर मिरानिसे की महारैली

3

newsofbihar.com डेस्क, 2 अक्टूबर। मिथिला राज्य की मांग को लेकर पिछले कई दशक से अक्सर अखबारों के साइड कॉलम में खबरें देखने को मिल जाती थी। आमतौर पर मिथिला राज्य की मांग को लेकर जब कभी धरना-प्रदर्शनों का आयोजन किया जाता था बमुश्किल 50 से 100 लोग नजर आते थे। हां ये बात जरूर है कि सोशल मीडिया पर मिथिला राज्य के समर्थन की बात करने वाले लोग लाखों की संख्या में मौजूद हैं। लेकिन अब मिथिला राज्य निर्माण सेना यानि मिरानिसे ने फेसबुक के वॉल से लाखों मिथिलाप्रेमियों को धरातल पर उतारने का ठान लिया है। 8-9 नवंबर को दरभंगा में दो दिवसिय महारैली का आयोजन करने जा रही है मिथिला राज्य निर्माण सेना।

हाल ही 12 जून,2016 को पटना के चिन्तन शिविर में आन्दोलन को तीव्र गति से आगे बढाने का निर्णय किया गया था। साथ ही भारत के महामहिम राष्ट्रपति के नाम मिथिला राज्य स्थापित करने के लिये बिहार के महामहिम राज्यपाल के माध्यम से स्मारपत्र सौंपा था। इसी चिन्तन शिविर में आन्दोलनका स्वरूप व आगामी रणनीति बनाने को लेकर एक राष्ट्रीय अधिवेशन अगले महीने नवम्बर 8 एवं 9 तारीख को दरभंगा में करने का निर्णय लिया गया था। मिथिला राज्य निर्माण सेना के प्रदेश कार्यकारिणी के अध्यक्ष डा. रंगनाथ ठाकुर की अध्यक्षता में आगामी अधिवेशन की तैयारी सम्बन्धी अन्तिम समीक्षा बैठक आज पूरा किया गया है।

आज के बैठक में ८ नवंबर को अधिवेशन सम्बन्धी कार्यक्रम कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय के अन्तर्गत ऐतिहासिक दरबार हॉल में करने का निर्णय लिया गया है। अतिथियों-प्रतिनिधियों को ठहराने का व्यवस्था वहीं पर स्थित मनोरंजन भवन में तथा ९ नवम्बर को विशाल आमसभा विश्वविद्यालय के खेल मैदान में करने का निर्णय लिया गया है। इस अधिवेशन में तकरीबन ३०० प्रतिनिधि विभिन्न जिलों के अलावे भारत के विभिन्न राज्यों में प्रवास पर रह रहे मैथिल अभियानियों के साथ-साथ पड़ोसी मुल्क नेपाल के मिथिलाक्षेत्रों से भी विद्वानों-अभियानियों व राजनीतिकर्मियों के संयुक्त सहभागिता का प्रयास चल रहा है। आज की इस बैठक में मिथिला राज्य निर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम झा, राष्ट्रीय महासचिव राजेश झा, पूर्व जिला पार्षद हेमंत झा, नवीन चौधरी, प्रवीण नारायण चौधरी, अनिल झा, शंकर नाथ झा, विजय चौधरी, अभिनन्दन मिश्र, शम्भू यादव, टुनटुन भाई, अजीत चौधरी, अमित मंडल, मंजीत तांती, अजित आजाद, दीपनारायण यादव, संतोष झा और अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।

फिलहाल मिथिला राज्य निर्माण सेना भारतीय गणराज्य में मिथिला राज्य निर्माणार्थ सभी घटकों को एक मंचपर जोड़कर राज्य एवं केन्द्र पर अपनी मांगों को पूरा करने के लिये जोर देना जरुरी समझकर आन्दोलन की गतिको तीव्रता प्रदान करने के लिये निर्णीत है। १४ अप्रैल २०१३ को स्थापित ‘मिथिला राज्य निर्माण सेना’ एक राष्ट्रीय स्तरपर कार्य करनेवाली पंजीकृत सामाजिक एवं सांस्कृतिक संस्था है जिसके मुख्य उद्देश्य हैं कि भारतीय गणराज्य में मिथिला राज्य को पुनर्स्थापित करने के लिये लोगों में जनजागरण के साथ-साथ वर्तमान राज्य तथा केन्द्र के द्वारा इस मांग को पूरा करने के लिये विभिन्न आन्दोलनात्मक कार्यक्रमों का आयोजन समय-समय पर करे। पिछले ३-४ वर्षों मे इस संस्था के द्वारा विभिन्न चरणों में मिथिला राज्य निर्माण यात्रा के साथ-साथ विभिन्न विषयों पर राष्ट्रीय संगोष्ठी व सम्मेलन आदि के आयोजन भी होते आ रहे हैं। दिल्ली मुख्यालय तथा दरभंगा शाखा के अतिरिक्त मुम्बई, गुआहाटी, सहरसा, पटना, आदि स्थानोंपर भी कार्यकर्ता सम्मेलनों का आयोजन करते हुए मिथिला राज्य निर्माणार्थ हम विभिन्न सम्बन्धित विषयोंपर चर्चा के साथ-साथ सरोकारवालों को स्मारपत्र के माध्यम से हमारी मांगों को पूरा करने के लिये हम अनुरोध करते आ रहे हैं।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME