08, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

मोदी की राजनीति… शहाबुद्दीन के रास्ते यूपी पंहुचना चाहती है बीजेपी !

sahabuddin-modi

पटना, 16 सितम्बर। उत्तर प्रदेश में चुनावी सरगर्मी तेज है तो बिहार में शहाबुद्दीन की रिहाई के बाद बिहार की सियासत भी रंग में रंगी हुई है। महागठबंधन की पार्टियां हो या विपक्षी खेमा एनडीए के घटक दल, कोई भी पार्टियाँ एक दुसरे के खिलाफ बयानबाजी करने का एक भी मौका नहीं छोड़ रही है। वहीं बीजेपी के मुख्य नेता व बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बेगूसराय में अपराधी गठजोड़ के खिलाफ आयोजित महाधरना में एक बार फिर अपने ताज़ा बयान में शहाबुद्दीन की रिहाई के बाद बिहार में हो रही राजनीति के बीच राजद सुप्रीमों लालू यादव पर हमलावर होते हुए लालू के दोनों बेटों को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से सीख लेने की सलाह दे डाली है। लालू के बेटों को नसीहत देते हुए कहा कि वे अपने पिता की तरह अपराध की राजनीति न करें और शहाबुद्दीन को पार्टी से निकालने के लिए अपने पिता पर दबाब डालें। आगे उन्होंने लालू यादव पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि लालू ऐसे दमकल हैं जो आग लगाने वाले को साथ लेकर चलते हैं।

जिसके बाद सुशील मोदी के बयान को राजनीतिकारों के नज़रों में अलग-अलग पहलु से देखा जा रहा है। यूपी में 3 महीने बाद विधानसभा चुनाव होने है, जिसको लेकर यूपी में सभी पार्टियाँ अपना-अपना समीकरण तैयार करने में लगी हुई है। चुनाव के एन वक्त 4 महीने पहले यूपी में बसपा सुप्रीमो मायावती के खिलाफ बीजेपी नेता दयाशंकर के बयान के बाद जमकर राजनीति रोटियां सेकी गई थी। बीजेपी ने भी हमलावर होते हुए ताबड़तोड़ रैलियां करके माहौल को अपने पक्ष में करने का प्रयास कर रही है। लेकिन सुशील मोदी के नए बयान में अखिलेश यादव के खिलाफ नर्म रुख को देखते हुए कहीं ना कहीं एक नजरिये में आने वाले समय में राजनितिक गठजोड़ की संभावना को भी नकारा नहीं जा सकता है।

वहीं यूपी में हाशिये पर चल रही कांग्रेस पार्टी भी किसानो को अपने पक्ष में करने के लिए खाट सभा और कर्ज माफ़ी की घोषणा करके यूपी की राजनीति में चर्चा का विषय बनी हुई है। फिलहाल इन बयानबाजियों के बीच यह देखना दिलचस्प होगा की शहाबुद्दीन की रिहाई के बाद आरोप-प्रत्यारोप के रंग में रंगी बिहार की सियासत से होते हुए महागठबंधन और एनडीए की पार्टीयां यूपी में किस तरह के समीकरण बनाने में सफल होती है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME