मां ने ही दी थी बिगड़ैल बेटे को मारने की सुपारी! जानिए पुरा मामला

crime
crime
Advertisement

पटना। दुनिया के नज़र में कोई व्यक्ति कितना भी खराब कयो न हो पर मां की नज़र में वह सबसे अच्छा होता है। अगर आप एसी बातो पर विश्वास रखते है तो जरा इस खबर को पढ़ लें। जमाना बदल गया है। अब बेटे की गलतियो को माये नज़र अंदाज नही करती। पटना में तो एक मां इससे भी आगे निकल गई अपने बेटे के करतूतो से परेंशान इस मां ने अपने ही बेटे की सुपारी दे दी! मां ने अपने सगे बेटे की हत्या करा दी!

हम जानते है कि किसी के लिए इस बात पर भरोसा करना हमारे लिए कठिन है। लेकिन समाज में पारिवारिक मूल्यों कमी से सामाजिक मान्यताओं की जड़े हिलानेवाली घटनाएं सामने आ रही है। मामला पिछले दिनों बख्तियारपुर का है। जहां एक मां ने अपने ही बिगड़ैल बेटे की हत्या करने को लेकर किलरो को सुपारी दे दी। चैंका देने वाली यह घटना छह अप्रैल की है।

ये भी पढे़ं:-   होटल से में रोंमांस फरमा रहे थे प्रेमी युगल, तभी आ धमकी पुलिस, कमरे की स्थिति देख रह गई दंग

जानकारी के अनुसार बख्तियारपुर में छह मई को मिंटू राम की हत्या हुई थी। इसी मामले में पुलिस ने पूरे मामले से पर्दा उठा दिया है। मिंटू की हत्या उसकी सगी मां रेणू देवी ने कॉन्ट्रेक्ट किलर लूल्हा उर्फ पंकज को 40 हजार की सुपारी देकर करायी थी। मां ने यह कदम बेटे मिंटू की गलत हरकतों से आजिज होकर उठाया था। इस घटना को अंजाम देने में शामिल रेणू देवी के साथ ही लूल्हा के दो साथी धर्मवीर कुमार (सैदपुर, सालिमपुर) व श्रवण कुमार (टेका बिगहा, बख्तियारपुर) को गिरफ्तार कर लिया गया है। घटना में प्रयुक्त पिस्तौल भी बरामद कर लिया गया है। आरोपित लूल्हा अभी पुलिस की पकड़ से बाहर है।

Advertisement

इस पूरे मामले में बड़ी बात यह है कि आरोपी मां ने अपराधियों से पूरी सेटिंग करने के खुद अपने बेटे को अपने सामने अपराधियों के हवाले कर दिया। इसके बाद लूल्हा व अन्य ने उसे पहले लाठी-डंडा से बेरहमी से पीटा और फिर गोली मार कर शव को फेंक दिया।बख्तियारपुर में मिला था मिंटू का शव:- मिंटू की हत्या के बाद अपराधियों ने शव को बख्तियारपुर में आकाश होटल के बगल टाल क्षेत्र में फेंक दिया था। स्थानीय पुलिस ने लोगों की सूचना पर सात अप्रैल को शव बरामद किया था और कुछ दूर पर ही पड़े उसके आधार कार्ड से उसकी पहचान खुसरूपुर के घुसकीपुर गांव निवासी मिंटू राम के रूप में हुई।

ये भी पढे़ं:-   बिहारशरीफ रेलवे स्टेशन पर भगदड़ तब मची जब छात्र भूकंप- भूकंप चिल्लाने लगे , 60 छात्र घायल

इसके बाद पुलिस ने मिंटू की पत्नी अंजू के बयान पर हत्या का केस किया और जांच शुरू कर दी। पुलिस को यह जानकारी मिली कि बेटे की गलत हरकतों से उसकी मां काफी परेशान थी और उसने हाल में ही मकान पर भी कर्ज उठा लिया था। इसके बाद पुलिस उसकी मां के पीछे लगी तो धीरे-धीरे सारी कहानी सामने आ गई।

मां ने पुलिस को बाई ये बात: – रेणू देवी ने जानकारी दी कि उसके बेटे मिंटू ने उसका जीना हराम कर रखा था. वह मजदूरी कर अपना जीवनयापन करती थी और वह कुछ नहीं करता था. इसके साथ ही जबरन वह बराबर पैसा लेता था। कई बार उसने उससे पैसे लेकर पहले बाइक खरीदी और फिर बेच दी। उसे शराब की लत थी। मुहल्ले की लड़कियों से भी अभद्रता करता था.

ये भी पढे़ं:-   मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नोटबंदी को बताया नाकाम, मोदी पर भी साधा निशाना

कोई विरोध करता तो उसे चाकू लेकर मारने दौड़ जाता था। वह जब पैसे नहीं देती थी कि सुसाइड करने का प्रयास करता। एक बार जहर भी खा चुका था। इसके साथ ही उसने मकान पर भी पैसा उठा लिया था। उसने बताया कि उसके बेटे की मांग हमेशा बढ़ती जा रही थी। इसके अलावा वह चोरी के साथ ही छेड़खानी की घटना को भी अंजाम देने लगा था।

Advertisement