28 अप्रैल, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

जहानाबाद : मुहर्रम पर खास कार्यक्रमों का आयोजन

98

पंकज कुमार की रिपोर्ट

जहानाबाद, 13 अक्टूबर। मुहर्रम के अवसर पर हजरत इमाम हुसैन को मानने वालों ने बुधवार को फूल चौकी और सिपहर का प्रदर्शन किया। इस दरम्यान पुरा फिजा या हुसैन या अली के नारों से गुंजायमान होता रहा। हर कोई यह नारा लगाते हुए इधर से उधर दौड़ते देखे गए। विशेषकर हजरत इमाम हुसैन के दूत हर इमामबाड़ों पर घुमते रहे और या हुसैन या अली के नारे लगाते रहे। ऐसी मान्यता है कि हजरत इमाम हुसैन के शहादत के बाद पैंक इधर उधर दौड़कर उन्हें ढूंढते फिर रहे थे और या हुसैन या अली के नारे लगा रहे थे। उन्हीं की याद में पैंक आज भी इधर उधर नंगे पैर नंगे सर कमर में घंटी और गले में हुसैन का पटा बांधकर दौड़ते रहते हैं।

परंपरा के मुताबिक मुहर्रम की दसवीं तिथि को विभिन्न इमामबाड़ों से ताजिया निकली। ताजिया तय स्थानों से होते हुए राजाबाजार पहुंची जहां नन्हें सहित हजरत अली को दूध का प्याला पेश किया गया। बताया जाता है कि इसी दिन हजरत अली असगर को यजिदियों ने एक बूंद पानी मांगने पर शहीद कर दिया था। मुहर्रम के दसवीं को योम-ए-आशुरा भी कहा जाता है। इस दिन हजरत इमाम हुसैन अपने बहतर साथियों के साथ अन्याय के खिलाफ आवाज बुलंद करते हुए शहीद हो गए थे। इस दिन मुसलमान रोजा रखते हैं और कुरान की तिलावत करते हैं। साथ ही अपने घरों में खिचड़ा मलिदा और मिठे पकवान बनाकर फातिहां करते हैं। इधर मखदुमपुर के बबुरबाना स्थित कर्बला मैदान में आयोजित अखाडे मे पीएचईडी मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने भी लाठी भांजी।

ये भी पढे़ं:-   जहानाबाद: बैंकिंग व्यवस्था और उसके लाभ को बताने के लिए नुक्कड़ नाटक का हुआ मंचन

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME