06, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

लालू-नीतीश शरणम ‘मुलायम’ गच्छामि ! इतने मजबूर मुलायम तो कभी ना थे…

grand-alliance

पटना, 27 अक्टूबर। मुलायम अपने भाई शिवपाल यादव और अपने बेटे अखिलेश यादव के बीच हुई लड़ाई झगड़े को तरह तरह से सुलझाने की कोशिश कर रहे है। वहीं दूसरी ओर मुलायम यादव महागठबंधन को मजबूत करने के लिए जुट गए है। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि यूपी चुनाव के लिए महागठबंधन की हो रही है तैयारी 5 नवंबर को होने वाले रैली के लिए दिया जा रहा है नेता को न्योता। इस काम के लिए उत्तर प्रदेश प्रमुख शिवपाल यादव दिल्ली के लिए रवाना हो गए है। बताया जा रहा है कि शिवपाल को न्योता देने का काम सौंपा गया है। सबको पांच नवंबर को समाजवादी पार्टी के रजत जयंती कार्यक्रम पर लखनऊ बुलाने की योजना है। शिवपाल यादव ने जेडीयू के वरिष्ठ नेता शरद यादव और केसी त्यागी से मुलाकात भी किया है। उधर मुलायम ने लालू और नीतीश से भी संपर्क साधा है।

उल्लेखनीय है कि बिहार में महागठबंधन की कवायद टूटने में मुलायम की भूमिका को नीतीश गाहे-बेगाहे याद करते हैं। सपा परिवार में उभरे मतभेद पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था कि मुलायम सिंह यादव के परिवार को बिहार की आह लग गई है। विवाद के दौरान नीतीश कुमार और उनकी पार्टी ने अखिलेश यादव के प्रति नरमी दिखाते हुए कहा था कि अखिलेश कड़ा फैसला लेें तो जदयू उनके साथ है।

शिवपाल यादव बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार, पूर्व अध्यक्ष शरद यादव, राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद, पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा, लोकदल के अजीत सिंह और अन्य पुराने समाजवादियों को लखनऊ आने का निमंत्रण देकर उन्हें लखनऊ आने का आग्रह करने के लिए दिल्ली पहुंच गए हैं। रैली में आने के लिए शिवपाल यादव ने शरद यादव से मिल कर उन्हें न्योता भी दे दिया है और शरद यादव ने न्योता स्वीकार भी कर लिया है। साथ ही शिवपाल ने नीतीश को भी न्योता दिया है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME