28 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

राजगीर महोत्सव के समापन समारोह के अवसर पर नीरज श्रीधर के गानों पर झूमे श्रोता

rajgir

demo

राजगीर, 28 नवम्बर। राजगीर महोत्सव के समापन समारोह को रंगीन बनाने बॉलीवुड के मशहूर प्लेबैक सिंगर नीरज श्रीधर रविवार को राजगीर पहुंचे। आपको बता दें कि नीरज ने हे बेबी, सुभान अल्लाह, इश्क का कलमा, भूल भुलैया सहित कई हिंदी फिल्मों में गाने गाये हैं। नीरज ने सलमान खान की गॉड तुस्सी ग्रेट हो से अपने करियर की शुरुआत की थी। मंच पर आते है नीरज ने शमा बांध दिया और श्रोताओं को अपने गाये गानों से झुमाया। नीरज ने किस्मत कनेक्शन फिल्म के जब तुझे देखे, नजरे किस्मत कनेक्शन हो जाए से कार्यक्रम की शुरुआत की। हे बेबी फिल्म का इश्क मोहब्बत प्यार की बातें, जी लेने दो इस पल को हे बेबी पर भी लोग खूब झुमे। जब नीरज ने रेस सांसों की रेस, बातों की अल्लाह दुहाई, ये बेताबी चाहिए गाया तो सारा पंडाल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।
वहीं तेरी आंखें भूल भुलैया, तेरी बातें भूल भुलैया, हरे राम हरे राम, हरे कृष्ण हरे राम पर भी दर्शकों ने इनका खूब साथ दिया।राजगीर महोत्सव की अंतिम शाम में सुरों के मेले ने लोगों का खूब मनोरंजन किया। बताते चलें की राजगीर महोत्सव के शुरुआत से लेकर समापन समारोह तक हर शाम रंगारंग रहा। जहाँ एक तरफ तीसरे दिन सुरमई महफ़िल सजी तो अंतिम शाम की शुरुआत अली मिक्की डांस ग्रुप के गणेश वंदना पर आधारित नृत्य से हुआ। सभी कलाकारों ने मनमोहक प्रस्तुति कर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया।
सभी श्रोताओं ने शांत होकर कलाकारों की प्रस्तुति को देखा। रंग बिरंगे परिधानों और रंग-बिरंगी रोशनी की चकाचौंध पंचपहाड़ियों में गूंजते रहे। रीमिक्स गानों के क्रेज को देखते हुए अली मिक्की डांस ग्रुप ने रिमिक्स गानों पर दर्शकों को खूब झुमाया। प्यार हुआ इकरार हुआ, प्यार से क्यों डरता है दिल, नैनो में सपना सपनों में सजना, ऐ काली-काली आंखें, मशहूर मेरे इश्क की कहानी हो गई, दीवानी मै दीवानी मस्तानी हो गई, कजरारे, कजरारे तेरे काले-काले नैया, मुझको बाहों में ले लो जैसे गाने और नृत्य पर लोग खूब झूमे।

ये भी पढे़ं:-   बिहारी डाॅक्टर के सम्मान में मनाया जाता है डाॅक्टर्स डे

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME