26 अप्रैल, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

दादी और मां के बाद कौन करेगा छठ ? सवाल का जवाब नितिन चंद्रा के इस वीडियो में है…

chhath_puja_udit

newsofbihar.com डेस्क, 5 नवंबर, छठ में दादी व्रत करती थी, फिर दादी के बाद मां ने छठ महाव्रत की परंपरा का पालन किया लेकिन सबसे बड़ा सवाल कि मां के बाद कौन इस महान परंपरा को जारी रखेगा। दरअसल ये समस्या किसी एक घर की नहीं है बल्कि हमारे और आपके घर की भी है। बदलते वक्त के साथ अब हाउसवाइफ की जगह वर्किंग वाइफ ने ले ली है। लेकिन एक बात बताइये कि वर्किंग वाइफ परिवार की कौन सी जिम्मेदारी का बोझ नहीं उठाती है? पति के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने वाली आज की महिला अपने बच्चों का भी ख्याल रख लेती है और ऑफिस के अलावा किचन भी संभालती है…लेकिन जब बात परंपरा की आती है तो फिर आधुनिकता इसके आड़े क्यों आ जाती है। आज क्या वजह है कि एक सास अपनी बहु से परिवार की परंपरा का निर्वहन करने की उम्मीद नहीं रख पाती है?

दरअसल छठ पूजा एक त्योहार ना होकर परंपरा है, बिहार के अस्तित्व की पहचान है। यही वजह है कि एक बिहारी चाहे दुनिया के किसी कोने में रहे अगर छठ के दौरान बिहार अपने घर नहीं लौट पाता है तो खुद को और उन हालातों को कोसता रहता है जिनकी वजह से वो इस महापर्व में शरीक नहीं हो पाता है। छठ एक ऐसा त्योहार है जहां गरीब-अमीर, ऊंच-नीच का भेदभाव खत्म हो जाता है और सामाजिक समरसता का इससे बड़ा उदाहरण दुनिया में नहीं मिल सकता है। लेकिन जो सबसे बड़ी समस्या घर-घर में देखने को मिल रही है वो ये कि दादी और मां के बाद परिवार की अगली पीढ़ी में से कोई इस परंपरा का पालन करने के लिए सामने नहीं आ रहा है।

बिहार के उभरते हुए निर्देशक नितिन नीरा चंद्रा ने इसी मुद्दे को केंद्रित करके एक शॉर्ट फिल्म बनाया है जो काफी लोकप्रिय हो रहा है। उम्मीद करता हूं कि आपने भी इस वीडियो को जरूर देखा होगा और सच कहूं तो मैं भी इस वीडियो को देखने के बाद काफी भावुक हो उठा और उसके बाद ही इस खबर को लिखने के लिए मानो मजबूर सा हो गया। क्रांति प्रकाश झा और क्रिस्टीना इस वीडियो में मुख्य कलाकार हैं। क्रांति प्रकाश के अभिनय क्षमता को आप लोगों ने देसवा, एम एस धोनी अलटोल्ड स्टोरी और मिथिला मखान प्राइवेट लिमिटेड में देख चुके होंगे। क्रांति प्रकाश इस वीडियो में बिल्कुल एक सच्चे बिहारी बेटे लग रहे हैं जो मां के बाद छठ कौन करेगा इस बात को लेकर चिंतित हैं। वहीं दूसरी ओर क्रिस्टीना को इस वीडियो में देखकर कोई ये कह ही नहीं सकता है कि ये टिपिकल बिहारी बहु नहीं हैं। कुल मिलाकर निर्देशक नितिन चंद्रा ने इस शॉर्ट फिल्म के माध्यम से बहुत बड़ा संदेश दे दिया है। नितिन चंद्रा की इस शॉर्ट फिल्म को देखकर एक बात तो तय हो गया है कि एक अच्छे निर्देशक को संदेश देने के लिए तीन घंटे की नहीं बल्कि 5 मिनट भी उसके लिए काफी होता है। अब अगर बात छठ की हो तो सबसे पहले ध्यान आता है बिहार की लीजेंड शारदा सिन्हा का…शारदा सिन्हा की सुमधुर आवाज में पहिने पहिने हम छठ कइनीं गीत आपको जरूर भावुक कर देगा। यूं तो शारदा सिन्हा जी ने छठ के लिए अनेको गीत गाया है लेकिन ये गीत उन तमाम नई पीढ़ी के लिए प्रेरणा दायक है जो छठ की महान परंपरा का महत्व तो समझते हैं लेकिन दिल और दिमाग से इसका पालन करने से कतराते रहते हैं। नितिन चंद्रा और उनकी टीम को newsofbihar.com की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं। आप यूं ही बिहार की खुशबु को पूरी दुनिया में बिखेरते रहिए नितिन।

ये भी पढे़ं:-   पश्चिम चंपारण: ग्रामीण चिकित्सक की गोली मारकर हत्या

वीडियो का लिंक ये रहा आपके सामने…एक बार नहीं बार-बार देखिए इस वीडियो को

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME