05, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

नीतीश कुमार की गाय ने एक साथ जन्म दिया दो नस्ल के बच्चों को, पशुपालन विभाग है परेशान और हैरान

nitish-kumar

पटना, 11 नवंबर। बिहार के मुख्यमंत्री के घर में एक दिलचस्प मामला सामने आया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की काली रंग की जर्सी गाय ने छठ के खरना के दिन जुड़वां बच्चे को जन्म दिया। जिसमें एक बछड़ा चितकबरा रंग का है। वहीं दुसरा बच्चा बछिया है जो काले रंग की है। यही नहीं एक साथ जन्म लेने वाले गाय के दोनों बच्चे दो नस्ल के बताए जा रहे हैं। यह देखकर मुख्यंमत्री नीतीश कुमार भी आश्चर्य में पड़ गए है।

आपको बताते चलें कि इस घटना के बाद 8 नवंबर को विभाग की सचिव डॉ. एन विजयलक्ष्मी और अन्य संबंधित अधिकारियों को मुख्यमंत्री आवास तलब किया गया और उनसे पूुछा गया कि कृत्रिम गर्भाधान के बाद एक गाय दो नस्ल के बच्चों को कैसे जन्म दे सकती है? इस सवाल से पूरा विभाग उलझन में है। वहीं डाॅक्टरों का कहना है कि दानों एक ही नस्ल के है। साथ ही उन्होंने बताया कि जर्सी नस्ल का रंग भी चितकबरा हो सकता है। इसे लेकर पशुपालन विभाग के अधिकारियों से पूछताछ की गई।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

ऐक विचार साझा हुआ “नीतीश कुमार की गाय ने एक साथ जन्म दिया दो नस्ल के बच्चों को, पशुपालन विभाग है परेशान और हैरान” पर

  1. Aditya Kumar Bajpai November 12, 2016

    To my mind entire opposition together would also b not in position to face Namo led BJP. When a leader becomes a leader of general public then he is beyond reach of such leadership n parties having no r narrow visions. In India there is democratic Govt, as v r made to understand ever since v became independent, is it so ? pl deeply think much before opining on the issue.
    V were rulled by muslims for about 8 centuries then by Britishers for 2 centuries n after independence by a dynasty for about 6 decades in which all the benefits of being independent have been enjoyed r snached by the members of this dynasty as well as by their Keith n kins also. The latest decision on demonitisation of high denomination currency speaks about his bold but pro national attitude knowing full well about the repurcusions of selfish politicians n traitors as well.

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME