08, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

अचानक नीतीश ने क्यूँ ले लिया शराबबंदी को लेकर अध्ययन करवाने का फैसला ?

Nitish-kumar

पटना, 30 जुलाई : बिहार में शराबबंदी के बाद हुए अच्छे या बुरे असर की तह तक की पड़ताल करने नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी और उनकी टीम बहुत जल्द बिहार आएगी। मिली जानकारी के अनुसार बिहार विधान परिषद की ओर से सत्यार्थी को सम्मानित करने के लिए आयोजित एक समारोह में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कैलाश सत्यार्थी को आग्रह किया है की राज्य में शराबबंदी के असर का अध्ययन करें। ‘बचपन बचाओ आंदोलन’ के प्रणेता कैलाश सत्यार्थी ने इसे स्वीकार कर लिया है।
मुख्यमंत्री ने शराबबंदी के बारे में बताया की आज माहौल पूरी तरह बदल गया है। शराबबंदी के बाद शराब छोड़ने वाले लोगों के जीवन में सुधार हुआ है, परंतु हमें इस पर एक तटस्थ संगठन की ओर से एक विस्तृत और वैज्ञानिक अध्ययन की जरूरत है। उन्होंने कहा कि आप सत्यार्थी जैसे लोग इस मुद्दे पर अध्ययन कराने की पहल कर सकते हैं। सरकार खुद यह अध्ययन कराती लेकिन किसी तटस्थ व्यक्ति की ओर से अध्ययन कराना बेहतर रहेगा। वहीं सत्यार्थी ने नितीश के आग्रह को स्वीकार करते हुए कहा कि शराबबंदी छोटा कदम नहीं है, बल्कि एक साहसिक कदम है। इससे बाल उत्पीड़न और मजदूरी पर अंकुश लगाने में जरूर मदद मिलेगा। मैं अध्ययन कराने के सुझाव को स्वीकार करता हूं।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

4 विचार साझा हुआ “अचानक नीतीश ने क्यूँ ले लिया शराबबंदी को लेकर अध्ययन करवाने का फैसला ?” पर

  1. vicky jha July 30, 2016

    दारू तो चालू होना ही हे और बन्द हो गाया तो किया हुआ मिल तो राहा ही हे 100 कै बदले 200 मै मिल राहा हे नाही दारू जाहा मिल राहा हुआ लोग गाँजा पि कार टांच् रहतै हे बिहार मै नासा कोइ बन्द नाही कार सकता ओकात नितीस कुमार का किया हे वो आव साब को पाता चाल गाया नासा मुक्त अभी यान खत्म खुद किया नितीस कुमार नै तारी पार सै प्रतिबाँध हाटा कार रोज गार तो ला नाही राहा और दारू कै पीछै पारा हुआ हे

  2. Mukesh yaav July 31, 2016

    Jitna Josh ke sath daru band kiya utna Josh ke sath rojgar de tabhi logo ki jindgi badle gi

  3. आशाराम आशिष July 31, 2016

    बहूत बहूत धनय बाद ।
    नीतिश जी को।अचछि बात है।

  4. vivek kumar jha form lakhnour (madhubini) August 1, 2016

    दारु तो बेरोजगारी तो बनद करो फिर सुधरेगा बिहार

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME