21 जनवरी, 2017
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

‘फेसबुक’ और ‘व्हाट्स एप्प’ पर ‘Happy New Year’ की शुभकामना देने वालों, जरा इसे भी पढ़ लें

happy-news-year-860x543

पटना, 21 दिसम्बर : संदेशों का आदान-प्रदान प्राचीनकाल से चला आ रहा है। इस बीच संदेश भेजने के जरिये बदलते रहे, लेकिन संदेशों का आदान-प्रदान आज भी जारी है। कभी नववर्ष पर एक दूसरे को शुभकामनाएं देने के लिए ग्रीटिंग कार्ड का चलन था। लेकिन, आज उनकी जगह व्हाट्सएप और फेसबुक ने ली है। शायद यही वजह है कि सूचना और तकनीकी के इस दौर में आकर्षक होने के बावजूद ग्रीटिंग कार्ड का बाजार पिछड़ गया है।

नया साल आने को है, बाजारों में बुक स्टोर व गिफ्ट गैलरी में भी रौनक छाने लगी है। आकर्षक गिफ्ट आइटम के साथ ही कई तरह के ग्रीटिंग कार्ड भी बाजार में आ चुके हैं। लेकिन, लोग ग्रीटिंग कार्ड नहीं खरीद रहे। दुकानदारों की माने तो ग्रीटिंग कार्ड महंगे हो गए हैं और इसे पोस्ट करने का खर्च अलग। इसके बाद भी यह तय नहीं कि समय पर कार्ड पहुंच ही जाएगा। इसलिए फोन उठाकर दोस्तों या रिश्तेदारों को एक एसएमएस भेजना ज्यादा आसान और सस्ता माध्यम बन गया है। बुक स्टोर चलाने वालों दुकानदारों का कहना हैं कि समय के साथ ग्रीटिंग का चलन कम हो गया है। इसलिए बेचने के लिए ग्रीटिंग कार्ड नाम मात्र रखते हैं।

आकर्षक होने के वाबजूद भी नहीं बिक रहा है ‘ग्रीटिंग कार्ड’
बाजारों में ग्रीटिंग कार्ड कुछेक दुकानों में ही देखने को मिल रहे हैं। ग्रीटिंग कार्ड बनाने वाली कंपनियां बाजार में बने रहने के लिए समय की जरूरत के अनुसार खुद को भी बदल रही हैं। आज बाजार में कई तरह के इलेक्ट्रॉनिक ग्रीटिंग कार्ड मौजूद हैं, जिनका आकर्षण अलग है। थीम कार्ड के साथ ही कई तरह के संदेश भी इन कार्डो का आकर्षण बन गए हैं। इसके अलावा बच्चों के लिए डोरेमॉन, बेनटेन जैसे कार्टून वाले ग्रीटिंग भी बाजार में मौजूद हैं। दुकानदारों के मुताबिक आकर्षक ग्रीटिंग कार्ड मौजूद होने के बावजूद भी कार्ड नहीं बिक रहे हैं।

‘व्हाटसएप’ संदेश बने जरिया

नववर्ष की शुभकामनाएं देने के लिए कई दिन पहले ही व्हाट्सएप के जरिये संदेश देने की होड़ शुरू हो गई है। कई लोगों ने तो नए वर्ष के आगमन से पूर्व ही शुभकामनाएं देनी शुरू कर दी है। इस वर्ष शुभकामनाएं भेजने के लिए सबसे ज्यादा मोबाइल एप्लीकेशन व्हाट्सएप का प्रयोग किया जा रहा है। व्हाट्सएप संदेश भेजने के लिए सबसे अच्छा माध्यम है। क्योंकि इसके जरिये वीडियो, फोटो, लिखित संदेश आदि आसानी से भेजा जा सकता है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME