26 अप्रैल, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

पटना में पुलिस पेट्रोलिंग की निकली हवा, वीआईपी इलाके में दुकानदार की गोली मारकर हत्या !

patna

न्यूज़ ऑफ़ बिहार डेस्क। सुरक्षित राजधानी के पटना पुलिस के तमाम दावो के बावजूद अपराधी अपनी खुनी हरकतों को अंजाम देने से बाज़ नहीं आ रहे है। पटना पुलिस किस तरह पेट्रोलिंग करती है। इसकी पोल एक गोलीबारी की घटना ने खोल कर रख दी है।बीती रात लगभग आठ बजे रात में ही बदमाशों ने एक किराना दुकानदार को उसकी दुकान में घुसकर गोली मार दी और भाग निकले। यह सब हुआ पुलिस पेट्रोलिंग के दौरान हुआ।घटना कोतवाली थाने के वीआईपी इलाके नागेश्वर कॉलोनी की है।
घटनास्थल के बगल में डीआईजी का आवास है। वही दूसरी तरफ जबकि कुछ दूर आगे पूर्व मुख्यमंत्री स्व. सत्येन्द्र बाबू का मकान है। बदमाश किराना दुकानदार रामदेव मंडल उर्फ ओम जी मंडल को गोली मारने के बाद उनकी दुकान में धमकी भरा पत्र छोड़ गए है। जिसमें अगला निशाना बेटे को बनाने की बात लिखी गयी है। अपराधियों ने दूकानदार को कांख में गोली मारी। उसे पीएमसीएच में भर्ती कराया गया था। जहाँ मंगलवार को किराया दुकानदार की मौत हो गई।
वही घटना के बाबत स्थानीय लोगों व पुलिस के मुताबिक ओमजी मंडल अपनी किराना की दुकान में बैठे थे। वह दूध का बूथ भी चलाते हैं। बताया गया है कि उस वक्त दुकान में ओम की पत्नी भी थी।
पुलिस सूत्रों के मुताबिक घटना से पांच मिनट पूर्व कोतवाली और बुद्धा कॉलोनी थाने के इंस्पेक्टर उस रास्ते अपने- अपने क्षेत्र की गश्ती करते निकले। पीएंडटी कॉलोनी मंदिर के समीप क्विक मोबाइल के जवान भी तैनात थे। गोली चलने की जानकारी पुलिस को एक साइकिल सवार से मिली। पुलिस सूत्रों के मुताबिक पुलिसकर्मियों को बताया गया कि आगे एक किराना दुकान पर गोली चली है। पुलिसकर्मी तुरत वहां पहुंचे। कोतवाली थाने के इंस्पेक्टर अविनाश कुमार और बुद्धा कॉलोनी थाने के इंस्पेक्टर मनोज मोहन गश्ती में ही थे। दोनों मौके पर तुरत पहुंच गये। ओमजी मंडल की कांख में गोली लगी थी। कोतवाली इंस्पेक्टर स्वयं उसे पुलिस गाड़ी पर लादकर पीएमसीएच ले गये। मौके पर पुलिस ने जांच के क्रम में वहां से एक ही तरह के लिखावट में तीन लेटर बरामद किया। उस पर लिखा था कि अगला निशाना बेटा होगा।
पुलिस बगल में स्थित एक होटल और अपार्टमेंट में लगे सीसीटीवी को खंगाल रही थी। सीसीटीवी में फुटेज क्लीयर नहीं है। बदमाशों का चेहरा सपष्ट नहीं हो रहा है। पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी के फुटेज में एक स्कूटी पर सवार दो लोगों को देखा गया है। ओम जी की दुकान से आगे स्कूटी से उतर कर एक बदमाश किराना दुकान गया उसके बाद वह भागते दिख रहा है। स्कूटी पर सवार गाड़ी स्टार्ट ही रखे था। घटना के बाद पीछे से आ रहा बदमाश स्कूटी पर बैठकर सत्येन्द्र बाबू के मकान वाली रोड से बोरिंग रोड की ओर भागते दिखा। बहरहाल जख्मी को पटना मेडिकल कॉलेज एण्ड अस्पताल में भर्ती कराया गया जिनकी मंगलवार को मौत हो गई।
शुरुआती तफ्तीश शुरू करते हुए पुलिस ने धमकी भरा पर्चा पुलिस ने अपने कब्जे में कर लिया। वही घटना के 24 घंटे बाद भी पुलिस द्वारा किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। वही घटना को लेकर इलाके में कई तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है।

ये भी पढे़ं:-   Breaking: केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को सर्किट हाउस में नहीं मिली जगह, धरने पर बैठे...

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME