06, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

आखिरकार पीएम मोदी ने मानी सीएम नीतीश की बात, टीम को भेजा बिहार…जानिए क्या है मामला!

Modi-Nitish

पटना, 1 सितम्बर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाढ़ पर सीएम नीतीश कुमार की ओर से दी गई सजेशन को मान लिया है। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पहल पर राज्य के गंगा बेसिन में बाढ़ की वजहों का पता लगाने के लिए गुरुवार को एक केंद्रीय टीम बिहार आ रही है। चार सदस्यीय टीम सूबे में बाढ़ के संदर्भ में गंगा की प्रकृति का अध्ययन करेगी। खासकर फरक्का बराज के निर्माण के बाद गंगा में आए परिवर्तन और सिल्ट की समस्या पर फोकस होगा। सीएम के आग्रह के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर केंद्रीय गृह मंत्रलय ने इस टीम का गठन किया है। टीम को दस दिनों में रिपोर्ट सौंपनी है।

गंगा बेसिन में बाढ़ के दौरान मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार से आग्रह किया था कि वह विशेषज्ञों की टीम भेजकर बिहार में बाढ़ का अध्ययन कराए। फरक्का बराज के निर्माण के बाद गंगा के पानी के प्रवाह में कमी और गाद के जमाव को बाढ़ की मुख्य वजह बताते हुए सीएम ने केंद्र सरकार को गाद प्रबंधन की सलाह दी थी। पिछले सप्ताह दिल्ली में प्रधानमंत्री से मुलाकात के दौरान नीतीश कुमार ने गंगा की दुर्गति के अध्ययन के लिए बाढ़ के हालात को सही वक्त बताया था।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

3 विचार साझा हुआ “आखिरकार पीएम मोदी ने मानी सीएम नीतीश की बात, टीम को भेजा बिहार…जानिए क्या है मामला!” पर

  1. Md asif September 1, 2016

    Jo v ho bihar ne himat nahi hari hai aur hamare cm ek dusre ka dukh dard samjhti hai….hame garb hota hai ke hamare cm nitish kumar hai…aur sentral ko v chahye ko wo madda kare jinka asyana ujar gya uska gam kya bayan karna……..bus duwa hai ke jald sabkuch thikh ho jaye

  2. RAM NANDAN SHARMA September 2, 2016

    Akhir Bihar me badh na ho. What can be done for it ? Dear pm modi ji plz take quick action. Cleanliness is mandatory in rivers. At last I would like to say that gaad must be taken out from river .

  3. आशीष कुमार September 2, 2016

    जबतक बिहार मे नदियो को आपस मे नही जोड़ा जेयेगा तबतक हमारे और आप का बिहार बाढ़ और सुखेाड़ से जुझता रहेगा

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME