23 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

विवाहित प्रेमी-प्रमिका को ‘दुशमन’ समाज ने कहीं का न छोड़ा!

muzaffarpur

प्यार की मिली ऐसी सजा कि सुनकर कांप जाएगी आपकी रूह !

मुजफ्फरपुर , 04 अगस्त। प्रेम जैसा पवित्र शब्द जिसकी लोग पूजा करते हैं, वो महज एक मजाक बनकर रह गया है। कहीं लोग इसे पाप का नाम देते हैं तो कहीं कलंक का। इसी क्रम में मुजफ्फरपुर जिला में कुछ ग्रामीणों ने एक प्रेमी युगल को आपत्तिजनक हालत में पकड़ उसे रात भर रस्सी से बांधकर रखा। उसके बाद बड़े ही बेरहमी से बुधवार की सुबह पंचायत ने सजा के तौर पर युवक का सिर मुंडवाया और महिला के बाल काट कर लाठी, डंडों और चप्पल से उसकी पिटाई के साथ ही उसे गांव से भी निकाल दिया।

बताया जा रहा है कि मामला जिला के फकुली गांव का है। जहां एक ही गांव के राज(काल्पनिक नाम) और सपना (काल्पनिक नाम) एक-दूसरे से प्यार करने लगे थे। सिलसिला बढ़ता गया और दोनों ने छुप-छुपकर मिलना-जुलना शुरू किया। रोज की तरह एक दिन राज सपना से मिलने पहुंचा और शायद बातों ही बातों में दोनों कुछ ज्यादा ही नजदीक आ गए। गांव वालों को इस बात की भनक लगते ही उन्हें रंगे हाथों पकड़ने के लिए अड्डे पर जा धमके । उसके बाद वो हुआ जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी। दोनों को आपत्तिजनक हालत में पाकर ग्रामीणों का गुस्सा उबल पड़ा। जिसके पश्चात दोनों को रात भर रस्सी से बांधकर रखने के बाद सुबह पंचायत बुलाई गई। सबकी मर्जी के बाद राज का सिर मुंडवा दिया वहीं सपना के बाल काट उसकी पिटाई की और फिर उसे गांव से निकाल दिया।

ये भी पढे़ं:-   प्रधानमंत्रीजी...मैं मरना चाहता हूं!

मिली जानकारी के मुताबिक दोनों शादी शुदा है। पंचों के अनुसार जब राज की पत्नी को इस बात का पता चला तो पंचायत में सबके सामने उसने अपने पति पर चप्पल बरसाना शुरू कर दिया। उसके बाद पंचों ने राज और सपना को गधे पर घुमाना शुरू कर दिया। ये सारी चीजें देख रहे एक पंच ने इसका विरोध करते हुए दोनों प्रेमी युगल को गधे से उतार दिया। उसका विरोध पंच को पसंद नहीं आया और उन्होंने उस वार्ड सदस्य को भी गांव से निकाल दिया।

वहीं दूसरी तरफ गांव से निकाले गए सदस्य के मुताबिक यह मामला पंचायत चुनाव से जुड़ा था। जो प्रेमी युगल पकड़े गए थे उन्होंने पंचायत चुनाव में जीते मुखिया का विरोध किया था जिसके कारण पंचायत ने इतनी बेरहमी से सजा दी। सूत्रों के अनुसार इस मामले की जानकारी ओपी अध्यक्ष अमान अशरफ को दी गई। बावजूद इसके पुलिस ने इस बात को टाल दिया।

Get NOB Updates on : फेसबुक पेज  |  फेसबुक ग्रुप  |  ट्विटर  |  यू ट्यूब 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME