25 मई, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

यहाँ सरेआम निजी अस्पतालों में होती है लूट, मरने वालों को कफ़न भी नहीं मिलता

hos

मो हसनैन कि रिपोर्ट

शिवहर, 21 नवम्बर। शहर के एक नीजि क्लिनिक में गलत ईलाज से एक महिला की मौत होने का मामला प्रकाश में आया है। दरअसल महिला की मौत मुजफ्फरपुर में हुई है। घटना से आक्रोशित लोगों ने रविवार को क्लिनिक के समीप जमकर हंगामा किया तथा चिकित्सक एवं कर्मी पर कई तरह के आरोप लगाए। परन्तु चिकित्सक एवं कर्मी क्लिनिक में ताला जड़ के फरार हो गए। आक्रोशित लोग जब उक्त चिकित्सक के विरूद्ध में प्राथमिकी दर्ज कराने गये तो घटना स्थल दुसरी जगह होने के कारण लौटा दिया गया। ग्रामीणों ने बताया कि तरियानी प्रखंड क्षेत्र के हिरौता गांव निवासी ललन दास की 27 वर्षीय पत्नी रिंकु देवी शहर में डीएनसी कराने आयी थी। जहाँ आशा कार्यकर्ता पुनिया देवी बहला फुसला कर उसे मिश्रा हेल्थ केयर सेन्टर में ले गयी और 8 हजार रूपये में डीएनसी करने का रिस्क लिया। परन्तु डीएनसी करने के साथ ही मरीज की स्थिति बिगड़ गयी। तब चिकित्सको नें मुजफ्फरपुर रेफर कर दिया। जहाँ ईलाज के क्रम में रविवार को उसकी मौत हो गयी। परिजनों का आरोप है कि उक्त क्लिनिक अवैध रूप से चलाया जाता है। जहाँ भोली-भाली जनता के जान के साथ खिलवाड़ किया जाता है। इधर नगर पंचायत के कालीगंज महावीर बाजार स्थित मार्केट कम्पलेक्स में जहाँ यह क्लिनिक संचालित होती है, उक्त रुप से जांच घर चलाने के नाम पर स्वीकृत कराये जाने का भी मामला सामने आया है। शिवहर में कई इस तरह के क्लिनिक है जहाँ चिकित्सक नहीं है। ये शिवहर के लिए आम बात है। यहाँ प्रति वर्ष अच्छे चिकित्सा के आभाव में सैकड़ो लोगो की जान चली जाती है। दुर्भाग्यपूर्ण बात तो यह भी है कि यहां जो भी जाँच घर है उसमे बहुत कम एैसे है जिसके डिग्रीधरी टेक्नीशियन हैं।

ये भी पढे़ं:-   दुर्गा पूजा से लौट रही युवती के अपहरण की कोशिश, चिल्लाने पर भागे तो वाहन ने मारी पलटी !

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME