24 अगस्त, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

ऑडियो क्लिप वायरल….ऑडियो क्लिप में पूर्णिया पुलिस का काला चिट्ठा !

police

कुलदीप भारद्वाज की रिपोर्ट

आजकल पूर्णिया में सोशल मिडिया पर एक आडियो क्लिप धमाल मचाता नजर आ रहा है। जो भी यह आडियो सुन रहा है दंग है , आडियो क्लिप में एक पत्रकार और एक पुलिस वाले की बातचित है , क्लिप सुनने के बाद किस तरह पूर्णिया पुलिस भ्रष्टाचार में लिप्त है। उसे सुना जा सकता है , आडियो क्लिप वायरल होने के बाद पुलिस अपनी इज्जत बचाने के लिए पत्रकार पर केस कर दी। केस टाइगर मोबाइल के जवान अरबिंद कुमार सिंह के लिखित आवेदन पर सदर थाना में दर्ज कराया गया है, जिसमे रंगदारी माँगने व सरकारी काम में बाधा देने का आरोप लगाया गया है। अगर आडियो को सच मानकर कार्यवाही कर रही है , तो आडियो में पुलिस पर भी गंभीर आरोप लगे है , यह आरोप लगाने वाले खुद आवेदन कर्ता टाइगर मोबाइल के जवान है। जो यह कहते हुए सुनाई दे रहे है , की पकड़ना है तो फ्रॉड सिपाही और अधिकारी को पकड़े जो गलत करते है। अपने ही डिपार्टमेंट पर खुद एक पुलिस जवान आरोप लगा रहा है , आखिर कौन है वो सिपाही और अधिकारी इसकी जाँच होनी चाहिए। वही दूसरी तरफ पत्रकार भी यह कहते सुनाई दे रहे है की अभी तीन चार दिन पहले उच्च सेटिंग करके दारु माफिया को दारु के साथ मरंगा थाना से एक पेटी (1लाख) देकर छुड़वाया था। बिहार में शराब पूर्णबन्दी है , और इसमें शामिल पुलिस वाले के लिए भी कानून बना है , जिस आडियो को सच मानकर पुलिस कार्यवाही कर रही है इसमें तो मरंगा थाना के सभी पुलिस वाले फंसते नजर आ रहे है। साथ ही ऊपर किसके पास सेटिंग हुई है , वो चेहरा भी बेनकाब होना जरुरी है , आडियो में पत्रकार द्वारा बार बार टाइगर मोबाइल से पैसे की माँग की जा रही है। जिसे वो देने में असमर्थता जाहिर कर रहा है। साथ ही पत्रकार यह भी कहते सुनाई दे रहा है , की पैसा आपको दुर्गा पूजा के बाद मिल जायेगा। कभी आपको पैसे की जरुरत होगी तो हम भी मदद करेंगे। पत्रकार द्वारा पैसे माँगने दौरान टाइगर मोबाइल जवान से यह भी बार-बार पूछा जा रहा है , की आपने 2 से 3 करोड़ की संपत्ति कैसे बनाई , जिसे पुलिस का जवान खारिज करता सुनाई दे रहा है। पुरे आडियो क्लिप में बातचीत के दौरान टाइगर मोबाइल के जवान के मोबाइल पर एक फोन आता है। जिसमे वे किसी को निर्देश दे रहे है , की उस शख्स को मोबाइल दे दो जिसे शराब पीकर मारपीट करते पकड़ा था। जबकि ऐसे किसी भी व्यक्ति को सदर थाना द्वारा पकड़ा ही नहीं गया है , तो क्या शराब पीकर मारपीट करने वाले को इस टाइगर मोबाइल के जवान द्वारा छोड़ दिया गया। मालुम हो की सदर थाना का टाइगर मोबाइल आजकल बहुत सुर्खियो में है , इन लोगो पर शराब माफिया को शह देने और शराब कारोबारी को पैसे लेकर छोड़ने का आरोप लगते रहा है। अभी हाल ही में पूर्णिया एसपी निशांत तिवारी द्वारा टाइगर मोबाइल के जवान मो अजमिल को इसी मामले में निलंबित किया है। कुल मिलाकर इस आडियो कांड के बाद पूर्णिया पुलिस की काफी फजीहत हो रही है , लोग सोचने पर मजबूर है क्या सच में पूर्णिया पुलिस इतनी भष्ट हो गई है।

ये भी पढे़ं:-   रंगदारी मांगने वाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME