14 जुलाई, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

NOB Exclusive: बिहार के लोगों को परेशान होने की जरुरत नहीं, आर बी आई ने भेजा 3000 करोड़

500

पटना, 15 नवम्बर। बिहार के सभी बैंकों में अबतक नए 3000 करोड़ रुपये भेजे गए हैं लेकिन कुछ तकनीकी व्यवस्था में गड़बड़ी की वजह से परेशानी आ रही है। कुछ दिनों में सब सामान्य हो जाएगा। बिहार में सभी बैंकों की कुल 6692 शाखाएं हैं। इनमें भारतीय स्टेट बैंक सबसे ज्यादा 935 शाखाएं हैं। भारतीय स्टेट बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष उमाकांत सिंह ने बताया कि बिहार स्थित एसबीआइ की 935 शाखाओं के जरिये आज लगभग 1000 करोड़ रुपये जमा हुआ। विभिन्न बैंकों की 5657 शाखाओं के जरिये भी करीब 2000 करोड़ रुपये जमा होने का अनुमान है।
बताया जा रहा है कि बैंक शाखाओं पर भीड़ जस की तस है। बिहार प्रदेश बैंक कर्मचारी संघ के नेता संजय तिवारी ने कहा कि जमा के साथ ही एक्सचेंज के लिए पूर्व की तरह ही भीड़ पहुंच रही है। सोमवार को एसबीआइ की मौर्य लोक कांप्लेक्स और गांधी मैदान स्थित स्थानीय प्रधान शाखा में सर्वाधिक भीड़ पहुंची। एक्सिस बैंक की डाकबंगला शाखा में भी भारी भीड़ शाम तक जमी रही। नोट एक्सचेंज के लिए आरबीआइ के क्षेत्रीय कार्यालय पर भी सड़क तक लाइन लगी थी। क्षेत्रीय निदेशक एमके वर्मा ने कहा कि यहां अंदर ग्राहकों को पानी पीने और बैठने की भी सुविधा दी गई है।

वहीं शिकायतों की भी कमी नहीं है। दीघा-आशियाना रोड में 13 बैंकों की शाखाएं हैं। सोमवार को इनमें से किसी भी शाखा में नोट नहीं बदले गए। एक्सिस बैंक के अधिकारियों ने हालांकि इसका खंडन किया। बैंक के अधिकारी मनोज कुमार तिवारी ने कहा कि नोट एक्सचेंज का काम लगातार हो रहा है। आइडीबीआइ बैंक के अधिकारी संजय सिंह ने कहा कि नोट एक्सचेंज का काम बंद नहीं किया गया था। बैंक अधिकारियों का कहना था कि नोट शॉर्ट हो जाने की वजह से कुछ विलंब हुआ होगा लेकिन नोट एक्सचेंज का काम कतई बंद नहीं किया गया था। यह लगातार जारी रहेगा।

ये भी पढे़ं:-   BSSC पेपर लीक: SIT को मिली बड़ी सफलता, गिरफ्तार हुई आंसर लिखने वाली पिंकी...

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

ऐक विचार साझा हुआ “NOB Exclusive: बिहार के लोगों को परेशान होने की जरुरत नहीं, आर बी आई ने भेजा 3000 करोड़” पर

  1. Satya narayan singh November 15, 2016

    Aap CSP she vi work start karwane kahen

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME