09, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

शहाबुद्दीन के स्वागत में लगे थे नितीश-लालू के पोस्टर, कहीं सब कुछ मैनेज तो नहीं है ?

sahabuddin-ki-rihai-ka-kafi

बिकास झा की रिपोर्ट

पटना, 11 सितम्बर : बाहुबली सांसद शहाबुद्दीन के जेल से रिहाई के बाद मचे सियासी घमासान के बिच तरह तरह के कयासों का दौर जारी है। नयी सरकार बनाने की संभावना को लेकर राजनितिकारों का आंकड़ो का गुना-भाग जारी है वहीँ मुख्य विपक्षी पार्टी बीजेपी ने राजद और जदयू को जमकर निशाना पर लेते हुए शहाबुद्दीन की रिहाई को कानून का मजाक बताया है। बयानों का दौर बदस्तूर जारी है वहीँ सैकड़ों गाड़ी के ताम झाम के साथ अपने गृह जिला पंहुचते ही शहाबुद्दीन ने मीडिया को बयान देते हुए नितीश पर करारा तंज कसा है। शहाबुद्दीन ने नीतीश कुमार को जननेता मानने से इंकार कर दिया है, साथ ही शराबबंदी पर नितीश को जमकर लताड़ा है। शहाबुद्दीन ने कहा कि जनता उनके साथ है तथा उन्होंने कभी बैकडोर पॅलिटिक्स नहीं की।
शहाबुद्दीन ने लालू प्रसाद को 27 वर्षों से अपना नेता बताया, मगर नीतीश कुमार को नेता मानने से इन्कार करते हुए कहा कि अगर वह अकेले चुनाव लड़ें तो 20 सीटें भी नहीं मिलेंगी। कहा कि लालू हमारे नेता हैं और रहेंगे। शहाबुद्दीन ने एक बार फिर दोहराया की नीतीश परिस्थितियों के नेता हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश जनता के नेता नहीं हैं। दोनों बार गठबंधन के चलते सीएम बने हैं। जननेता होते तो अपने दम पर सरकार बनाते।

वहीं इन बयानबाजी से दूर हटकर आपको बता दें की शहाबुद्दीन के रिहाई के बाद गाड़ियों के काफिलों में कुछ ऐसे भी गाड़ीयां दिखी जिसमें लालू और नीतीश की तस्वीर शहाबुद्दीन के स्वागत में लगी थी। लालू-नीतीश के तस्वीर के बिच में शहाबुद्दीन की बड़ी सी तस्वीर थी जिसके निचे डॉ. मो. शहाबुद्दीन जिंदाबाद लिखा हुआ था। फ़िलहाल कोई भी पार्टी राजद हो या जदयू इस मुद्दे पर जमकर एक दुसरे के खिलाफ बयानबाजी करने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है। वहीं बीजेपी ने इस मुद्दे पर धरना देने का ऐलान भी कर दिया है। फिलहाल शहाबुद्दीन के रिहाई के बाद बिहार की सियासत में एक बार फिर सरगर्मी तेज हो गई है। शहाबुद्दीन के स्वागत में काफिले में लगे लालू-नीतीश के पोस्टर से यह अंदाजा लगाना अभी असंभव है की बिहार की राजनीति आने वाले समय में कौन सा करवट लेगी।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

5 विचार साझा हुआ “शहाबुद्दीन के स्वागत में लगे थे नितीश-लालू के पोस्टर, कहीं सब कुछ मैनेज तो नहीं है ?” पर

  1. pankaj kumar September 11, 2016

    Ye sab lalu aur nitish ki den hai

  2. Ajay Singh Chauhan September 12, 2016

    दोनो कि मिलिभगत है,और ये जो कोस्ने कि प्रक्रिया चल रहि है,सब ड्रामा है,ये बरे और छोटे मिया कि!

  3. Vishwajeet September 13, 2016

    Ye mahagadbandan ki chal h jise janta acchi trah samjh rahi h

  4. Rajesh Kumar thakur September 16, 2016

    Mujhe ummid h Nitish ji apne chhavi se samjhauta nhi krenge Aur kisi ke achhe din ho na ho Sahabuddin ke bure din suru ho chuke h !

  5. mohd.afroz kaisor September 20, 2016

    ये साहेब हैं साहेब थे और साहेब ही रहेंगे।

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME