05, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

शहाबुद्दीन की गीदड़भभकी पर बरसे नीतीश, फ्रंटफुट से बैकफुट पर आया बाहुबली !

sahbuddin-nitish

पटना, 12 सितम्बर। तेजाब कांड सहित कई दर्जन आपराधिक मामलों के आरोपी पूर्व राजद सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन पर सख्त टिप्पणी करने के बाद आरजेडी नेता और पूर्व सांसद शहाबुद्दीन बैकफुट पर आ गए हैं। यही कारण है कि सिवान में पत्रकारों से बातचीत में शहाबुद्दीन बदले बदले से नजर आए। इस अवसर पर उन्होंने राज्य सरकार को पूरे पांच साल चलने का सर्टिफिकेट दिया। साथ ही यह भी कहा कि भागलपुर में दिए गए उनके बयान का लोग गलत अर्थ लगा रहे हैं।

शहाबुद्दीन ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को परिस्थितियों का नेता बताने का आशय चुनाव पूर्व के हालात से था। बिहार में भाजपा को रोकना उस समय की मांग थी। ऐसे हालात में तीन दलों का महागठबंधन बना और नीतीश को नेता बनाया गया। मेरे बयान का मतलब यही था।

उधर सीएम आरजेडी नेता एवं उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी शहाबुद्दीन को समर्थन देने से इंकार कर दिया। तेजस्वी ने स्पष्ट किया कि वह नीतीश कुमार के खिलाफ किसी भी सियासी पैंतरे के साथ नहीं हैं। उनके लिए राज्य सरकार का स्थायित्व एवं महागठबंधन की एकता ज्यादा महत्वपूर्ण है।

तेजस्वी ने रविवार को ट्वीट करके कहा कि महागठबंधन की एकता हिमालय जैसी है। नीतीश कुमार के नेतृत्व में सरकार पूरे पांच साल चलेगी। जाहिर है, सारी परिस्थितियों को देखते हुए बाहुबली नेता शहाबुद्दीन को अपने बयान के बारे में सफाई देने पर मजबूर होना पड़ा।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

7 विचार साझा हुआ “शहाबुद्दीन की गीदड़भभकी पर बरसे नीतीश, फ्रंटफुट से बैकफुट पर आया बाहुबली !” पर

  1. Ajay Singh Chauhan September 12, 2016

    सब सत्ता का खेल है!साहब

  2. Ranjeet choudhary September 12, 2016

    Bihar me wine (daru) dukan khulnachhahiye

  3. Chandan kumar September 12, 2016

    Isko fasi honi chaiea taki dusra koi sahbuddin nahi bane

    • Alamgir Azad Mehsaul Sitamarhi Bihar September 13, 2016

      Judge ne Md. Shahabuddin ko bail diya hai chandan jee judge banjaiye phir Shahabuddin sb. Ko phansi dene ki sochiyega

  4. आलमगीर आज़ाद September 13, 2016

    मझे लगता है मो0 शहाबुद्दीन को फांसी देने के लिए चन्दन कुमार को जज बना देना चाहिए ।
    समस्त भारतवासी को तहे दिल से बकरीद मुबारक

  5. Rahul September 13, 2016

    It’s nothing except political game of RJD and JDU if Nitish really want to control crime then he will never give bail to such criminal. But reality is “jangal raj in bihar once again”

  6. Devanand Mishra September 13, 2016

    इसमें गलती किसकी है हमें नहीं पता लेकिन इन जैसे दुर्दांत को बाहर नहीं आना चाहिए था। इसके लिए सरकार को गम्भीर होना चाहिए। यदि बाहर आ ही गया है तो इमिडिएट सीसीए लगाकर फिर अन्दर कर देना चाहिए। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिए। अन्यथा भविष्य मे जनता इसका हिसाब मांगेगी

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME