22 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

संगल गोस्वामी को न्यायिक हिरासत में लेने से कोर्ट का इनकार

court-570x344

पंकज कुमार सिंह की रिपोर्ट
जहानाबाद , 28 जुलाई। स्थानीय व्यवहार न्यायालय स्थित मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी रामायण राम के न्यायालय ने बुधवार को साक्ष्य के अभाव में बहुचर्चित मंटू हत्याकांड के मुख्य आरोपी संगल गोस्वामी को न्यायिक हिरासत में लेने से इनकार कर दिया। बताया जा रहा है कि संगल ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से इस हत्याकांड में रिमांड करने के लिए न्यायालय के समक्ष प्रार्थना पत्र दाखिल किया था। जहां न्यायालय के पास पुख्ता सबूत उपलब्ध नहीं रहने के कारण संगल के रिमांड के लिए दाखिल किए गए आवेदन को खारिज कर दिया गया। वहीं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अशफाक अंसारी ने संगल को अपनी में लेकर उसके गिरफ्तारी की पुष्टि की है। आपको याद दिलाते चलें कि 22 जून को स्थानीय मलहचक मुहल्ले के निवासी मंटू कुमार की हत्या कर दी गई थी जिसका शव दूसरे दिन पटना के धनरूआ थाना क्षेत्र से बरामद किया गया। साथ ही 23 जून को मंटू के परिजनों ने जले हुए लाश की पहचान की थी और एक कोचिंग संचालक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई गई थी। पुलिस ने भी इस घटना को बहुत ही गंभीरता से लेते हुए अलग-अलग टीम का गठन कर जांच-पड़ताल शुरू कर दी। जिसमें एसपी आदित्य कुमार ने अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार सिंह के नेतृत्व में एसडीपीओ अशफाक अंसारी, नगर थानाध्यक्ष नागेंद्र सिंह तथा अनुसंधानकर्ता संजय कुमार के अलावा कई अन्य पुलिस पदाधिकारियों को शामिल किया। इसके बाद इस टीम ने लगातार छानबीन कर राजा सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया और धारा 164 के तहत राजा का बयान दर्ज करवाया। जिसमें राजा ने अपनबयान में संगल गोस्वामी को इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड बताया था।

ये भी पढे़ं:-   स्वच्छता अभियान के 'क्रांति दूत'

निकिता गुप्ता

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME