25 अप्रैल, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

शहाबुद्दीन बाहर तो कोई बात नहीं अनंत सिंह आएंगे तो माहौल खराब ? DM ने खोला अनंत के खिलाफ मोर्चा

shahabuddin-anant-singh

newsofbihar.com डेस्क, 26 सितंबर। मोकामा के निर्दलीय विधायक अनंत सिंह को किसी कीमत पर जिला प्रशासन जेल से बाहर नहीं आने देना चाहता है। डीएम संजय अग्रवाल ने गृह मंत्रालय को भेजे गए चिट्ठी में बताया है कि अनंत सिंह के बाहर आने की खबरों के बाद से ही उनके समर्थक क्षेत्र में अराजकता का माहौल बना रहे हैं। जिलाधिकारी ने बाढ़ थाने में दर्ज दो केस का हवाला देते हुए कहा है कि उनके समर्थक बाइक पर सवार होकर खुलेआम अशोभनीय हरकत कर रहे हैं। अनंत सिंह के खिलाफ जितने भी आपराधिक मामले दर्ज हैं सबकी सूची गृह मंत्रालय को सौंपी गई है। हम आपको बता दें कि अनंत सिंह के खिलाफ कुल 33 मामले दर्ज हैं।

डीएम ने एक तरह से अनंत सिंह के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए अनंत सिंह को पटना की शांति के लिए खतरा बताते हुए एक साल तक जेल में निरूद्ध करने का आदेश जारी किया है। अनंत सिंह को कुख्यात बदमाश बताते हुए डीएम ने कहा है कि वो खुद अपराध करते हैं और करवाते भी हैं। अनंत सिंह को लेकर जनता के बीच खौफ का माहौल है।

दरअसल अनंत सिंह को बिहार अपराध नियंत्रण अधिनियम (सीसीए) के तहत जेल में बंद रखने का प्रस्ताव डीएम ने गृह विभाग को पांच सितंबर को भेजा था। हालांकि उस प्रस्ताव को गृह विभाग द्वारा अनुमोदन हासिल नहीं हो सका और यही वजह है कि डीएम ने 17 सितंबर को सीसीए के आदेश को निरस्त कर दिया। इसके बाद दोबारा 21 सितंबर को सीसीए का प्रस्ताव गृह विभाग को अनुमोदन के लिए भेजा गया है। प्रस्ताव अभी गृह विभाग में विचारधीन है। नियमों के मुताबिक गृह मंत्रालय को प्रस्ताव मिलने के 12 दिनों के अंदर जवाब देना होता है। गृह विभाग की अनुशंसा मिलने के बाद ही सीसीए प्रस्ताव पटना हाईकोर्ट के एडवायजरी बोर्ड में जाएगा और वहाँ से अप्रूवल मिलने के बाद ही सीसीए का आदेश अंतिम तौर पर प्रभावी होगा।

ये भी पढे़ं:-   शहाबुद्दीन के 'व्हाइट हाउस' में 'ब्लैकआउट'...EXCLUSIVE REPORT

FacebookTwitterGoogle+

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME