27 जून, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

क्या ‘डॉन’ फिर से चलाएगा बिहार या जायेगा तिहाड़? सुप्रीम कोर्ट में शहाबुद्दीन मामले की सुनवाई आज!

shahabuddin

demo

newsofbihar.com डेस्क

28 नवम्बर, पटना। शहाबुद्दीन को जमानत मिलते ही बिहार की राजनीति में भूचाल आ गया था। एक तरफ जहाँ शहाबुद्दीन के समर्थन में लोग आये वहीं उसके विरोध में सोशल मीडिया से लेकर अख़बारों तक में अलग अलग लोगों के बयान सुर्ख़ियों में रहे। आज सुप्रीम कोर्ट में शहाबुद्दीन मामले की सुनवाई होनी है। बिहार सहित देश के लोगों की नजरें इस मामले पर है। आपको बता दें कि 24 अक्टूबर 2016 को सुप्रीम कोर्ट ने सीवान के व्यवसायी चंदा बाबू और पत्रकार राजदेव रंजन की याचिकाओं की सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार, बिहार सरकार और खुद शहाबुद्दीन को नोटिस देकर पूछा था कि आरोपी को आखिर तिहाड़ जेल में क्यूँ न शिफ्ट कर दिया जाए। आशा रंजन ने कोर्ट से मांग की थी कि शहाबुद्दीन के सीवान में रहने से जान का खतरा है और यह डर कि कहीं केस प्रभावित न हो जाए। इसलिए सहाबुद्दीन को किसी बाहर की जेल में शिफ्ट किया जाए। शहाबुद्दीन के सीवान में रहने से यह डर हमेशा रहेगा कि वो कहीं साक्ष्यों को प्रभावित न कर दे।
वहीं चंदा बाबू ने भी अपनी याचिका में इसी आशंका का जिक्र किया था। चंदा बाबू की ओर से पैरवी कर रहे चर्चित अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने याचिका में कहा था कि मोहम्मद शहाबुद्दीन को सीवान ही नहीं बिहार से बाहर किया जाए क्योंकि उनके सीवान या बिहार में बने रहने से खतरा है। खतरा सिर्फ चंदा बाबू के परिवार को नहीं वरन् मामले के गवाहों को भी है। 24 अक्टूबर 2016 को जब इस मामले की सुनवाई हुई थी तो पूरे बिहार की नजर इस मामले पर थी। सभी लोग जानना चाहते थे कि अदालत क्या कहती है। सर्वोच्च न्यायलय में फैसला तो नहीं दिया लेकिन नोटिस जारी कर के यह जरुर पूछा कि राजद नेता को क्यूँ न तिहाड़ में शिफ्ट कर दिया जाए। साफ है शहाबुद्दीन के सामने अब तिहाड़ भेजे जाने का खौफ मंडराने लगा है। अब इस मामले पर आज सुनवाई होनी है। एक बार फिर से सभी को सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है।

ये भी पढे़ं:-   झा जी...दिन में कितने घंटे होते हैं ?

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME