30 मई, 2017
To Advertise on this Website call Us on 9155705448, 8130906081
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

इस बिहारी ने रचा इतिहास, नोबेल शांति पुरस्कार समारोह में शामिल होने वाला पहला बिहारी बना

sharad

demo

newsofbihar.com डेस्क

पटना, 29 नवम्बर। एकतरफ जहाँ देश के कुछ स्वार्थी तत्व बिहार को बदनाम करने का प्रयास कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ बिहार के बेटे और बेटियाँ बिहार का नाम देश-दुनिया में रौशन कर रहे हैं। बिहार के नाम को रौशन करने वाले इस बिहारी बेटे का नाम है शरद सागर। विश्व की जानी मानी पत्रिका फोर्ब्स की ताजा जारी अंडर 30 के 30 लोगों की सूची में शामिल होने वाले शरद को अमेरिकी राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस से न्यौता मिला है। शरद सागर को नोबल शांति पुरस्कार समारोह में एशिया-यूरोप से चुने गए 26 डेलिगेट में भारत की तरफ से चुना गया है। डेक्सटेरिटी ग्लोबल नामक संस्था के सीईओ शरद सागर के अलवा दिल्ली की पर्यावरण इंजीनियर परिधि रस्तोगी को भी इसमें शामिल किया गया है। श्विक स्तर पर शिक्षा की अलख जगाने निकले शरद 7 से 12 दिसंबर तक नॉर्वे में रहेंगे। वह अन्य 25 डेलिगेट के साथ नोबल शांति पुरस्कार विजेता कोलंबिया के राष्ट्रपति सैंटोस के सम्मान समारोह में सक्रिय भूमिका निभाएंगे। उनके बारे में जानकारी लेंगे विश्व शांति पर विचार रखेंगे।
आपको बता दें कि समारोह का आयोजन नोबल पीस सेंटर करती है। शरद नोबल शांति पुरस्कार के पूर्व विजेताओं से भी मिलेंगे। कार्यक्रम के बाद अन्य डेलिगेट के साथ मिलक्र संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्य की प्राप्ति के लिए नीतियां बनाने में जुट जाएंगे। भारत के 3000 समेत एशिया-यूरोप के करीब 5 हजार नामांकन में से 8-8 युवक-युवतियां प्रतिनिधिमंडल के चयन के लिए अंतिम राउंड में थे। इन्हीं में से शरद को चुना गया।
एक वेब पोर्टल से बात करते हुए शरद ने कहा “मैं तो कहूँगा ब्रह्मांड के “आकर्षण के सिध्यांत” (The Law Of Attraction) का जीता जागता उदाहरण !जरा सोचिये जिस इंसान के जिंदगी में प्रेरणा देने वालो की लिस्ट में, ज्यातर लोग नोबेल परुस्कार विजेता हों, और आज उसे उसी नोबेल पुरुस्कार समारोह में बुलाया जा रहा हो तो ये कैसी गौरवशाली अवसर और ख़ुशी से ओतपोत भावनात्मक क्षण होगा! यह साल बहुत ख़ास रहा है. पिछले ही महीने मुझे बराक ओबामा, एक नोबेल शांति पुरस्कार विजेता के साथ हाथ मिलाने का मौका मिला और अगले महीने मुझे इस साल के नोबेल पुरस्कार विजेता राष्ट्रपति सैंटोस से मिलने का सम्मान प्राप्त होगा। मेरे जीवन के अधिकांश हीरो नोबेल पुरस्कार विजेता रहे हैं और नोबेल शांति पुरस्कार समारोह के लिए आमंत्रित किया जाना मेरे लिए बहुत बड़े सम्मान की बात है।”

आइये शरद के साल 2016 की कुछ उपलब्धियों जानें

ये भी पढे़ं:-   मंदिर के पुजारी ने नाग से उगलवाया 'मणि', लोगों को हुआ

जनवरी 2016 : शरद सागर बिहार से पहले उद्यमी बने जिन्हें फोर्बस पत्रिका ने अपने 30 अंडर 30 की सूची में मार्क ज़ुकरबर्ग एवं मलाला युसुफजई जैसे नामों के साथ शामिल किया।
फरवरी 2016 :दुनिया भर के प्रभावशाली युवा उद्यमियों की सूची में भारत से सबसे ऊपर।
मई 2016 : टफ्ट्स यूनिवर्सिटी के स्नातक समारोह में भाषण देने वाले पहले भारतीय बने।
मई 2016 : विवेक सागर ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के मास्टर्स के प्रस्ताव को ठुकरा कर बिहार वापस आकर हर बच्चे तक शैक्षणिक अवसर पहुँचाने का निर्णय लिया.
अक्टूबर 2016 : शरद को अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा व्हाइट हाउस आने का आमंत्रण आया था।
नवम्बर 2016 : शरद सागर को विश्व बैंक ( वर्ल्ड बैंक ) से आमंत्रण मिला ( किसी व्यक्तिगत कारणवश यहाँ जा नहीं सके किसी वजह से )
दिसम्बर 2016 : शरद को शानदार नोबेल शान्ति पुरस्कार समारोह में शामिल होने का निमंत्रण, नोर्वे देश से।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME