10, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

चर्चित सिमरन कांड मामले का मुख्य आरोपी शमीम गिरफ्तार

ngkjhkh

न्यूज़ डेस्क : चर्चित सिमरन कांड के मुख्य आरोपित शमीम को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसकी गिरफ्तारी नेपाल बॉर्डर से हुई है। गिरफ्तारी की पुष्टी एसपी जितेंद्र राणा ने की है, उन्होंने बताया की शमीम को मोतिहारी लाया जा रहा है जिसके बाद उससे पूछताछ में सिमरन मामले से पर्दा उठेगा। साथ ही उन लोगों के नाम भी सामने आयेंगे, जो शमीम की मदद कर रहे थे। अभी इस मामले में राजू मिंयां व एंटोनी नाम के दो युवक जेल में हैं। ढ़ाका में कबाड़ का कारोबार करने वाला शमीम 26 फरवरी 2014 को उस समय फरार हो गया था, जब ढाका पुलिस ने उसके यहां तस्करी का सामान होने को लेकर छापेमारी की थी. छापेमारी के दौरान शमीम के घर में एक तहखाना नुमा कमरा मिला था। जिसमें सिमरन को कैद करके रखा गया था। सिमरन होश में न रहे इसलिए उसे नशे की सूईयां दी जाती थी। साथ ही उससे देह व्यापार भी कराया जाता था। शमीम सिमरन से निकाह की तैयारी कर रहा था ताकि उसकी संपत्ति को हड़प सके।

सिमरन सीतामढ़ी के बाजपट्टी इलाके के एक संपन्न परिवार से तालुक रखती है। इसके पिता की हत्या का आरोप शमीम पर लगा था। जिनकी लावारिस हालत में शिवहर इलाके से लाश बरामद की गई थी। सिमरन की मां खुशबू की हत्या का आरोप शमीम पर है। सिमरन के भाई अमनदीप का शव रेलवे ट्रैक से मिला था। इस मामले में कई लोगों की गिरफ्तारी हुई थी। जो हाल ही में जेल से छूटे हैं। अब शमीम की गिरफ्तारी हो चूकी है। उससे पूछताछ में पूरे मामले का खुलासा होगा कि एक हंसते खेलते परिवार को किस तरह से उसने अपनी महत्वाकांक्षा का शिकार बनाया।

बताया जा रहा है कि सिमरन की मां और शमीम की मुलाकात सीतामढ़ी जेल में हुई थी,जब वह प्रताड़ना के मामले में बंद अपने पति से मिलने के लिए जेल जाती थी। इसी दौरान मुलाकातों में शमीम ने खुशबू को अपने जाल में फंसा लिया था और जेल से निकलने के बाद उसने उसे शादी का प्रस्ताव दिया था. पति और बेटे की हत्या के बाद खुशबू सिमरन को लेकर शमीम के यहां चली गयी थी। तब सिमरन छोटी थी बताते हैं कि शमीम दोनों को लेकर दर्जिंलिंग चला गया था वहीं किराये के मकान में खुशबू के साथ रहता था। सिमरन जब बड़ी होने लगी, तो उसकी नजर खुशबू के साथ उस पर भी पड़ने लगे। इसके बारे में जब खुशबू को पता चला तो उसने विरोध किया। इसके बाद शमीम ने खुशबू की हत्या की साजिश रची। उसकी हत्या के बाद वो सिमरन को लेकर ढाका चला गया था। यहां उसने अपनी माता पिता से भी सिमरन की मुलाकात करायी थी और कहा था मैं इससे निकाह करने वाला हूं। राज खुले नहीं शमीम सिमरन को नशे की हालत में रखता था।

लगभग दो साल नौ महीने से फरार शमीम को अब पुलिस पकड़ पायी है, लेकिन इस बीच सिमरन की दो बार हत्या की कोशिश हुई। लगभग एक माह पहले उसपर हमला हुआ था जिसमें वह बच गयी। इस मामले में एक गिरफ्तारी भी हुई है। साथ ही सिमरन के घर पर पुलिस का पहरा भी है। वह अभी अपने नानिहाल में रहती है। सिमरन मामले को लेकर विभिन्न सामािजक व राजनीतिक संगठनों की ओर से समय समय पर धरना प्रदर्शन किया जाता रहा है। ढाका से लेकर मोतिहारी तक इसको लेकर कई बार प्रदर्शन भी हुए, जिसमें मामले की सीबीआइ जांच की मांग भी की गयी थी।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME