29 मार्च, 2017
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

शिवहरः शिवहर को शौचमुक्त बनाने के लिए हुआ सामाजिक संगठनों का बैठक

shiwhar

मो. हसनैन की रिपोर्ट

शिवहर, 19 नवंबर: डीएम राजकुमार के निर्देश पर शिवहर के सभी सामाजिक संगठन का बैठक हुआ। बैठक में शिवहर के विधायक मो. शरफुद्दिन भी मौजूद थे। शिवहर जन जागरण मंच के लगभग 2 दर्जन कार्यकर्ताओं ने भी इस बैठक में भाग लिया। बैठक में जिलाधिकारी के द्वारा खुले में शौच मुक्ति के बारें में निम्न बातें बताई गईं।
खुले में शौच मुक्ति के लिए जनवरी तक सभी परिवारों में शौचालय निर्माण होना है। इसके लिए जन जागरूकता की जाएगी। स्कूलों में इसके लिए प्रभात फेरी निकाला जायेगा। सभी प्रशाशनिक पदाधिकारी सहित सभी सामाजिक संगठन के लोगों द्वारा जगह-जगह चर्चा कार्यक्रम किया जायेगा। नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जायेगा। पंद्रह दिनों तक जागरूकता रथ धुमाया जायेगा। मैसिव कैंपेन के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जायेगा। शौचालय निर्माण हेतु प्रत्येक परिवार को 12000 रुपए प्रोत्साहन अथवा इनाम के रूप में राशि दिया जायेगा। पूर्व में बनाये गए शौचालय के लिए कोई प्रोत्साहन राशी का प्रावधान नहीं है। यह केवल नए शौचालय निर्माण हेतु है। जिनके पास शौचालय नहीं है अगर वो शौचालय बनवाने में असमर्थ है तो स्थानीय मुखिया के द्वारा स्वविवेक पर उस परिवार को उधार के तौर पर राशी देकर उनका शौचालय बनवाया जायेगा। इस कार्य के लिए गांव के धन सम्पन्न लोगों के भी मदद की आवश्यकता होगी। इन लोगों का उधार सम्बन्धित परिवार को सरकार के तरफ से प्रोत्साहन राशि मिलने के बाद चुकाया जायेगा। मतलब जो परिवार उधार लेकर शौचालय निर्माण किये है उन्हें प्रोत्साहन राशि मिलने के बाद लौटाना होगा। नहीं लौटाने पर कानूनी कारवाई की जायेगी। इस बैठक में विशेष रूप से आशीष त्रिवेदी मंच के मुख्य समन्वयक रहे। उमेश नंदन सिंह , मुकुंद सिंह, चन्दन गुप्ता, प्रवीन मिश्रा, राजू गुप्ता, दिवाकर विधार्थी, दिलीप पाण्डेय, अवनीश कुमार, दुर्गेश जी, सुबोध जी, सुनील चैधरी, गुड्डू कुमार इत्यादि शिवहर जन जागरण मंच के प्रमुख कार्यक्रताओं के साथ संघर्षशील युवा अधिकार मंच के मुकुंद प्रकाश, अदिया कुमार, विक्की गुप्ता, तथा शिवहर क्लब के रहमान शेख इत्यादि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।
इसके अलावा जदयू के नथुनी चौधरी और रथ बनाने के कारीगर भी उपस्थित रहे। आइये हम सब मिलकर शिवहर का इतिहास बदलें और शिवहर को शौचमुक्त जिला बनाएं। ये केवल सरकार का ही कर्तव्य नहीं है ये हमारा अपना भी कर्तव्य है। व्यवस्थित जीवन जीने के लिए, स्वाभिमान से जीने के लिए, सम्मान से जीने के लिए, एक कदम इतिहास बनाने के लिए। आगे आइये और शिवहर को शौचमुक्त जिला बनाइये।

ये भी पढे़ं:-   इस 'नटवरलाल' ने प्रेमिका से शादी करने के लिए दोस्त के साथ मिलकर अपना ही अपहरण करवा लिया!

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

loading...

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME