07, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

कुछ स्वार्थी तत्व मेरी राजनितिक हत्या का प्रयास कर रहे हैं: नीतीश कुमार

jdu

newsofbihar.com डेस्क

पटना, 29 नवम्बर। नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ उनकी बढती निकटता की ख़बरों पर विराम लगाते हुए एक बड़ा बयान दिया है। नीतीश कुमार ने कहा है कि उनकी राजनितिक हत्या की साजिश की जा रही है। नीतीश कुमार के अनुसार न वो बीजेपी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह से मिले हैं और न ही पीएम नरेन्द्र मोदी से उनकी कोई बात हुई है। कुछ स्वार्थी तत्व इस तरह की झूठी खबरें फैला रहे हैं। मैं एक बात साफ़ कर दूँ कि हम नोटबंदी के फैसले के साथ हैं, बीजेपी के साथ नहीं। केंद्र की भाजपा सरकार उन्मादी राजनीति, समाज को बाँटने की प्रवृति, संघीय ढांचे पर प्रहार और असहिष्णुता के के खिलाफ जदयू का संघर्ष देश को भाज्पमुक्त बनाने तक जारी रहेगा।
सोमवार को जदयू विधानमंडल दल की बैठक को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि यूपीए सरकार के समय भाजपाशासित राज्य जीएसटी का विरोध कर रहे थे, उस समय भी उन्होंने राष्ट्रीय हित में इसका समर्थन किया था। दौर बदला है। जीएसटी के विरोधी आज इसका श्रेय लेना चाहते हैं। राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दे, कालाधन पर कार्रवाई और जीएसटी जैसे राष्ट्रीय हित के मुद्दे जैसी हर अच्छी बात का उन्होंने समर्थन किया है। आज कल राजनीतिक सवालों पर उनकी राय जाहिर होने के बाद उसकी अनर्गल राजनीतिक व्याख्या की जाने लगती है। लेकिन, वे इसकी चिंता नहीं करते हैं।उन्होंने कहा कि नोटबंदी का फैसला पर्याप्त कदम नहीं है। जबतक सभी तरह की बेनामी संपत्ति पर प्रहार नहीं होगा, कालाधन उजागर नहीं हो सकता है। नोटबंदी और बेनामी संपत्ति पर प्रहार के साथ-साथ शराब के अनैतिक व्यापार पर अंकुश लगाकर ही देश और समाज का निर्माण हो सकता है। यही समय है नोटबंदी पर चोट का। अगर केंद्र ने तुरंत कदम नहीं उठाया तो पीएम की नीयत पर सवाल उठने लगेंगे।
वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि जो मामले राज्य से जुड़े हुए नहीं हैं, वैसे मामले को सदन में उठाकर महागठबंधन पर प्रहार करने की विपक्ष की कार्यप्रणाली न केवल अनैतिक है, बल्कि राजनीतिक मर्यादा के विपरीत है। एक तरफ लोग राजनीति में वोट के लिए झूठे वादे करते हैं और दूसरी ओर उन्होंने सात निश्चय के आधार पर जनादेश लिया तो एक वर्ष के अंदर क्रियान्वयन शुरू कर दिया। सात निश्चय का कार्यक्रम आम लोगों के जीवन से जुड़ा है। इसका जनजीवन पर गहरा असर पड़ेगा। बैठक को संसदीय कार्यमंत्री श्रवण कुमार और विधानसभा में जदयू विधायक दल के उपनेता श्याम रजक ने भी सं‍बोधित किया।

नीतीश कुमार ने कहा कि कालाधन पर कार्रवाई के साथ बेनामी संपत्ति, सोना और हीरा जमा करने वाले पर भी कार्रवाई करने का उचित समय है। केंद्र की नोटबंदी की कार्रवाई का स्वागत है, लेकिन पूरी तैयारी नहीं होने से जनता को हो रही परेशानी को हमारी पार्टी संसद से लेकर विभिन्न फोरम पर गंभीरता से उठा रही है।
विधानसभा के कार्यालय कक्ष में बातचीत में सीएम ने कहा कि पैसा जमा कर लोग क्या करेंगे। ऊपर तो अकेले जाना है, कोई साथ नहीं जाता और कफन में जेब भी नहीं होती है। कहा कि हमारी यह भावना रही है कि भारत से चीन को पछाड़ना है। चीन से आगे निकलना है तो केंद्र को शराबबंदी का फैसला साथ करना होगा।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

ऐक विचार साझा हुआ “कुछ स्वार्थी तत्व मेरी राजनितिक हत्या का प्रयास कर रहे हैं: नीतीश कुमार” पर

  1. नमोनारयण हजारी November 29, 2016

    बिहार अपना मुख्यमंत्री पर गौरवान्वित है । ऩोट बंदी का समर्थन सभी कर रहें कुछ दल उसके ब्यवस्था पर बिरोध कर रहें हैं जिसमें कांग्रेस भी है ।

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME