05, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

सुप्रीम कोर्ट के नोटिस से गुस्साएं तेज प्रताप ने दिया बड़ा बयान, बीजेपी नेताओं पर भी हो कार्रवाई !

kaif

पटना, 24 सितम्बर। कुछ दिनों से चल रहे राजनीतिक “फोटो वार” में घिरे तेजप्रताप यादव ने सुप्रीम कोर्ट से मिली नोटिस पर नाराजगी व्यक्त की है। जर्नलिस्ट राजदेव रंजन हत्याकांड में अपराधियों का बचाव करने के आरोप में घिरे बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने तस्वीर को लेकर मिली सुप्रीम कोर्ट के नोटिस से नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा है कि नेताओं और मंत्रियों से हर रोज ना जाने कितने लोग भेंट करने आते हैं। इनमे अपराधी कौन है यह कैसे पता चलेगा ? कहा कि, मै सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करता हूं, लेकिन तस्वीर को लेकर आरोप लगाना सही नहीं है। कोई माथे पर लिख कर नहीं घूमता कि वो अपराधी है। ऐसा भी हो सकता है कि, किसी साजिश के तहत मेरी फोटो खींची गई हो ? उन्होंने कहा कि, अगर इस आधार पर मुझपर करवाई की जाएगी तब तो भाजपा नेताओं पर भी कार्रवाई होनी चाहिए।

आगे कहा कि इस मुद्दे पर कोर्ट को पक्षपात नहीं करनी चाहिए। वहीं अपनी याचिका में पत्रकार राजदेव की पत्नी आशा रंजन ने शहाबुद्दीन के साथ-साथ तेजप्रताप पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। आशा ने तेजप्रताप पर एक अपराधी को संरक्षण देने का आरोप लगाया है। सुप्रीम कोर्ट से मिली नोटिस के बाद नाराज़ तेजप्रताप यादव ने प्रेस के प्रश्नों पर उनसे हीं सवाल किया कि आपके साथ अगर ऐसे व्यक्ति की फ़ोटो आ जाए जो आपराधी हो, तो क्या इसका मतलब ये है कि आप उसे पनाह दे रहे हैं या उसे बचा रहे हैं ?

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME