07, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

बढे दाम और कैश की कमी से गिरा दरभंगा का गर्म-कपड़ों का बाजार! सस्ते होने की वजह से बढ़ी सिंथेटिक कम्बलों की मांग

blanket

demo

प्रवीण कुमार की रिपोर्ट

दरभंगा, 30 नवम्बर। दरभंगा की सड़कों के किनारे चौकी और फोल्डिंग बिछाए फूटपाथ विक्रेता कम्बल और रंग बिरंगे गर्म कपड़ो को सजाते दिखने शुरू हो गए हैं। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष गर्म कपड़ों के भाव बढे हुए हैं। एकतरफ नोटबंदी के कारण ग्राहकों के जेब में कैश की कमी है तो दूसरी तरफ गर्म कपड़ों का भाव आसमान छू रहा है। बढे भाव और नोटबंदी के बीच खुदरा खरीददारी में कमी साफ़ देखी जा सकती है। आपको बता दें कि दरभंगा के गर्म कपड़ों के बाजार में इसबार कॉटन कम्बल के मुकाबले सिंथेटिक कम्बलों की ज्यादा मांग है। सिंथेटिक कम्बलों की मांग बढ़ने का कारण उनका सस्ता होना बताया जा रहा है। सिंथेटिक रंग-बिरंगे कम्बल ग्राहकों को अपने लुक और कम दम के कारण आकर्षित कर रहा है।
व्यापारियों ने बात करते हुए बताया कि कम्बलों के दाम बढ़ने का सर रजाइयों पर भी पड़ा है। रजाइयों के मुकाबले कम्बलों की ज्यादा वेरायटी और कम दाम होने की वजह से रजाइयों की तुलना में कम्बल की बिक्री ज्यादा हो रही है। व्यापारियों ने बताया की सिंथेटिक कम्बल बाजार में 150-200 तक के सस्ते दामों में उपलब्ध है। वहीं सिंथेटिक रुई में 40% की बढ़ोतरी हुई है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME