भारत बंद: बिहार में जाम के कारण 2 साल की मासूम की मौत

Advertisement

पेट्रोल-डीजल के बढ़ते कीमत के खिलाफ महागठबंधन के भारत बंद के कारण जहानाबाद सदर अस्पताल पहुंचने से पहले ही दो साल की एक मासूम बच्ची ने अपना दम तोड़ दिया। गया जिले के बालाबिगहा गांव के प्रमोद मांझी अपनी 2 साल की बेटी बेबी को जहानाबाद इलाज के लिए ले जा रहे थे, लेकिन जगह-जगह जाम मिलने के कारण देर हो गई और अस्पताल पहुंचने से ठीक पहले बच्ची की मौत हो गई।

प्रमोद मांझी ने कहा कि उसकी बेटी को डायरिया हुआ था। जिसके कारण शरीर में पानी की कमी हो गई थी। उसके इलाज के लिए मैं अस्पताल जा रहा था लेकिन जाम के कारण समय पर पहुँच नहीं पाया। उन्होंने दावा किया कि अगर जाम नहीं मिलता तो समय रहते अस्पताल पहुंचने पर बेबी ठीक हो सकती थी। प्रमोद के अनुसार “आम दिनों में बालाबिगहा से जहानाबाद जाने में घंटा भर लगता है। आज मुझे तीन घंटे लग गए। मैं होरिलगंज ही पहुंच पाया था, जो जहानाबाद शहर से ठीक पहले है। वहीं मेरी बेटी ने आखिरी सांस ली।

आपको बतादें कि जहानाबाद राष्ट्रीय जनता दल और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा का गढ़ माना जाता है। स्थानीय लोगों के मुताबिक आरजेडी समर्थकों ने सुबह से ही जगह-जगह जाम लगा दिया था।