पुलवामा, मुम्बई में लोगों में आक्रोश रोकी गई लोकल ट्रेन

Advertisement

सेंट्रल डेस्क दीपक खाम्बरा-  जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले शहीद हुए 40 सीआरपीएफ जवान शहीद होने के बाद पूरा देश इस वक्त गुस्से में हैं और पाकिस्तान के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है। मुंबई में भी लोगों का गुस्सा पटरी पर उतरा है। लोगों ने विरार और नालासोपारा में लोकल ट्रेन रोक दी गई, साथ ही ट्रैक पर खड़े होकर पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी की। लोगों की भारी भीड़ आक्रोश में है जिसके कारण कई लोकल ट्रेनों की आवाजाही में असर पड़ रहा है।

इससे पहले मुंबई के भिंडी बाज़ार में सभी दुकानें बंद कर व्यापारियों ने विरोध जताया, इसके साथ ही मुस्लिम समाज के पूरे इलाके में घूम-घूमकर तिरंगा लहराया और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए।

वहीं सुरक्षाबलों का एक्शन भी तेज़ हो गया है। पुलवामा से संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है। इन संदिग्धों के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से कनेक्शन की जांच चल रही है। इस बीच जांच एजेंसयों को उस गाड़ी के बारे में भी सुराग हाथ लगे हैं जिससे सीआरपीएफ के काफिले पर हमला हुआ था।

इस आतंकी हमले को अंजाम देने के लिए स्कॉर्पियो गाड़ी का इस्तेमाल किया गया था। उसके बारे में कई इनपुट सुरक्षा एजेंसियों को मिले हैं। तमाम सुरक्षा एजेंसियां अब कामरान और राशिद गाजी के साथ-साथ उन लोगों की भी तलाश में है जिन्होंने फिदायीन हमले के लिए विस्फोटकों का इंतज़ाम किया था।