भगवान करें ऐसा दोबारा न हो, बेटी की शादी मंडप में पिता का मौत हो गया

marriage-death
Advertisement

पटनाः बिहार से एक ऐसी दिल-दहेला देने वाली घटना सामने आई है | जिसे जानकर आप हैरान हो जाएगें | सभी के मता-पित्ता का एक सपना होता है उसके बाल बच्चे का विवाह एक अच्छे खनदान में हो धूम धाम से, इसके लिए हर प्रयास करने में माता पित्ता लगे रहते हैं | लेकिन शुभ अवसर पर अगर इस तरह की घटना सामने आए तो आप हैरान हो जाएगें |

दरअसल घर में बेटी की शादी थी । जिसके चलते घर में चारो तरफ चहल-पहल थी । कोई खाने के इंतजाम में लगा था तो कोई बारातियों के स्‍वागत में लगा था । घर में महिलाएं द्वारा मांगलिक गीत गाने कि प्रक्रिया चल रही थी | शादी की रस्म अंतिम चरण में थी। आगे कन्यादान का विधान होने वाला था । कि अचानक इसी दौरान मंडप पर ही पिता बिपिन सिंह लुढ़क गए । जिसके बाद वहां पर कड़े परिवार वालों में हरकम मच गई | ये घटना बिहार की राजधानी प‍टना जिले के मोकामा की है । जहां पर बेटी की शादी वाले मंडप पर ही पित्ता ने दम तोड़ दिया | कन्यादान से पहले जब पित्ता मंडप पर बैठे थे तो अचानक लुड़क गए | लोगों ने सोचा गर्मी की वजह से चक्कर आ गया होगा । आननफानन में उन्हें बाहर ले जाकर खुले में सुलाया गया । चेहरे पर पानी के छीटें मारे गए । इधर पंडित को शादी की रस्म जारी रखने को कहा गया । लोग घबराने की कोई बात न कहकर सारी रस्में कायम रखने को कह गए । सब कुछ सामान्य बनाने का प्रयास किया गया। लेकिन उधर लड़की के पिता को होश नहीं आता देख घर के लोगों की बेचैनी बढऩे लगी थी । आनन-फानन में निकट के निजी नर्सिंग होम में ले जाया गया, जहां चिकित्सक ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया। लेकिन इस दुख की घड़ी में भी पित्ता की मौत की खबर बेटी के कानों तक नहीं पहुँचने दिया | जब बेटी की शादी हो गई और बेटी डोली में बैठ कर ससुराल चली गई इसके बाद पित्ता की मौत की खबर बेटी को दी गई | उसके बाद तुरंत ही नवविवाहित पित्ता की अंतीम दर्शन के लिए वापस आ गई |

ये भी पढ़े  जदयू के इस बड़े नेता ने तेजस्वी को बताया ’मुहल्ले का छोटा नेता’, जानिए और क्या कहा

गांव वालों ने नम आखों से पित्ता को अंतीम विदाई दी और सभी के जुबान पर एक ही शब्द था कि भगवान किसी भी आदमी के साथ ऐसा घटना गठित न करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here