हाईकोर्ट के निर्णय से पहले सीएम नीतीश ने लिया बड़ा फैसला

Advertisement

बिहार के मुजफ्फरपुर स्थित बालिका गृह में हुए यौन उत्पीड़न की घटना की जांच सीबीआई कर सकती है। इस मामले में सीएम नीतीश कुमार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की है। सीएम ने इस घटना पर संज्ञान लेते हुए मुख्य सचिव, डीजीपी और प्रधान सचिव को जांच सीबीआई को सौंपने का निर्देश दिया है। ज्ञात हो कि घटना उजागर होने के बाद बिहार में विपक्ष सरकार पर हमलावर है। विपक्ष ने इसकी सीबीआइ जांच की मांग की थी। घटना की सीबीआइ जांच को लेकर आज पटना हाईकोर्ट में सुनवाई भी होने वाली है।

सीएम सचिवालय द्वारा इस संबंध में एक प्रेस रिलीज जारी किया गया है। सीएम ने कहा है कि यह घटना काफी घृणित है और पुलिस पूरी मुस्तैदी से इसकी जांच कर रही है। उन्होंने कहा है कि सरकार पूरे मामले की निष्पक्ष जांच करने को प्रतिबद्ध है, लेकिन पूरे मामले में एक भ्रम का वातावरण बनाया जा रहा है।

गौरतलब है कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह में 29 बच्चियों के यौन उत्पीड़न के सनसनीखेज खुलासे के बाद घटना की चर्चा पूरे देश में हो रही है। यहां लड़कियों का मानसिक और शारीरिक शोषण किया जाता था। सात साल की बच्ची तक को दरिंदों ने नहीं छोड़ा था। वह बच्ची बोल नहीं पा रही है। एक लड़की ने तो अपनी सहेली की हत्‍या कर शव को परिसर में ही दफना दिए जाने की भी बात कही है। देश को हिला देने वाले इस सनसनीखेज मामले में स्‍वयंसेवी संस्‍था ‘सेवा संकल्प एवं विकास समिति’ के संचालक ब्रजेश ठाकुर समेत 10 आरोपी जेल में हैं, जबकि एक फरार है।