वाजपेयी की आलोचना करने वाले प्रोफेसर की पिटाई पर गरमाई राजनीति, तेजस्वी ने पूछा सवाल…

Advertisement

फेसबुक के माध्यम से अटल बिहारी वाजपेयी पर विवादित टिप्पणी करने वाले महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी के प्रोफेसर पर हुए हमले को लेकर बिहार में राजनीति गर्मा गई है। इस हमले के बाद राजद ने सरकार पर निशाना साधा है। राजद के राज्यसभा संसद मनोज झा और तेजस्वी ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया।

तेजस्वी ने पूछा कि नीतीश जी आप सीएम हाउस में आरएएसएस की शाखा खोलकर सरसंघचालक क्यों नहीं बन जाते। उन्होंने लिखा “What’s this going on Mr. CM? RSS goons in direct patronage of RSS programmed VC assaulted & almost Lynched a Professor, they poured patrol to burn him alive। Nitish Ji, Why don’t you open a RSS Shakha in CM house & be ‘सरसंघचालक’ of it?”

वहीं शुक्रवार को मनोज झा ने लिखा था कि “असहमति/विरोध के ‘अपराधीकरण’ की श्रृंखला में महात्मा गांधी सेंट्रल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर संजय कुमार पर हमला और उन्हें पेट्रोल डालकर जलाने की कोशिश की गयी।शर्म आनी चाहिए! ये हमारी 72 वर्ष की आज़ादी की यात्रा के मायने हैं? ”

ज्ञात हो कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के ऊपर टिप्पणी करने और उसे फेसबुक पर लिखने के बाद कुछ लोगों ने महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय, मोतिहारी में समाजशास्त्र के प्रोफेसर संजय कुमार पर हमला बोल दिया था। वो अपने निवास पर कुछ काम कर रहे थे तभी चार-पांच लोगों ने उनपर हमला कर दिया। हमलावरों का आरोप था कि लोकप्रिय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के खिलाफ प्रोफेसर ने अभद्र शब्दों का प्रयोग कर सोशल मीडिया पर लिखा है। जिससे उन्हें आघात पहुंचा है।

वहीं प्रोफेसर संजय कुमार ने अपने ऊपर हुए हमले का आरोप वीसी अरविंद अग्रवाल पर लगाया। संजय कुमार ने मोतिहारी थाने में एक शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। पीड़ित प्रोफेसर ने कहा कि फेसबुक पर उन्होंने कुछ भी असंसदीय शब्द का प्रयोग नहीं किया है। हमलावर विश्वविद्यालय के कुलपति के गुर्गे हैं। जिन्होंने पूर्व के आन्दोलन में सक्रिय भूमिका निभाने की वजह से उन्हें धमकी देते रहे हैं।