एससी-एसटी एक्ट पर रामविलास पासवान का बड़ा बयान, बोले सवर्णों को आरक्षण…

Advertisement

एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में भारत बंद के बाद गरीब सवर्णों के लिए आरक्षण पर सियासत तेज हो गई है। बिहार कांग्रेस ने गरीब सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण की मांग की है। वहीं, केंद्रीय मंत्री और लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान ने गरीब सवर्णों को भी 15 प्रतिशत आरक्षण की वकालत किए हैं। उन्होंने कहा कि लोजपा गरीब सवर्णों को आरक्षण देने का हमेशा ही समर्थन करती रही है। गरीब सवर्णों को आरक्षण मिले इसके लिए लोजपा संघर्ष करेगी।

उन्‍होंने कहा, एक्ट 29 साल पहले बना था, उस समय से लेकर अभी तक सात प्रधानमंत्री हुए। लेकिन, आज तक किसी ने भी संसद में एक्ट के दुरुपयोग को लेकर विरोध नहीं किया। केन्द्र सरकार द्वारा सभी पाटिर्यों के सहयोग से एससी-एसटी एक्ट बिल को पास किया गया। इसके बाद सबकुछ शांत हो गया, लेकिन अचानक एक्ट का विरोध होने लगा। इसके पीछे विपक्ष की साजिश है।

कांग्रेस के सवर्ण पॉलिटिक्स पर बोलते हुए रामविलास पासवान ने कहा कि आजादी के बाद से कांग्रेस ही केंद्र की सरकार में रही, तब उन्होंने सवर्णों को आरक्षण क्यों नहीं दिया ? उन्होंने आगे कहा आखिर आज कांग्रेस को कहां से अक्ल आई है जो गरीब सवर्णों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण देने की मांग कर रही है ?