भाजपा ने किया मेरा फेसबुक अकाउंट हैक किया : तेजप्रताप

tej-pratap-post

पटना। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सप्रीमो लालू यादव के परिवार में एक बार फिर से आंतरिक कलह खुलकर सामने आ गए हैं।

Advertisement

कल सोमवार को तेजप्रताप यादव ने फेसबुक पर एक पोस्ट डाला जिसके बाद लालू परिवार में दरार की बातो को लेकर एक बार फिर से चवर्चाएं तेज हो गई है।

इस पोस्ट में बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने उन्हे  ‘जोरू का गुलाम’, ‘पागल-सनकी’ कहने के लिए पार्टी के विधान पार्षद सुबोध राय और लालू-राबड़ी परिवार के खास ओमप्रकाश उर्फ भुट्टू पर जमकर निशाना साधा है। तेजप्रताप ने अपने फेसबुक पोस्ट मेंचेतावनी दी है कि यदि यही स्थिति बनी रही तो वह राजनीति नहीं करेंगे। इस पोस्ट में तेजप्रताप ने यह भी साफ किया कि वे परिवार के कारण इन दोनों के खिलाफ कदम नहीं उठा पा रहे हैं। उन्होने लिखा है, – मैं इन कीड़े-मकौड़े को चुटकी में मसल सकता हूं, किंतु मेरा पैर अपनों के कारण रुक जाता है। तेज प्रताप की इस पोस्ट के बाद पूरे राजद में भूचाल-सा आ गया है।

तेजप्रताप के फेसबुकम अकाउंट से किया गया ये पोस्ट परिवार और पार्टी के दबाव के बाद एक घंटे के अंदर डीलिट कर दिया गया। वहीं तेजप्रताप ने इस पोस्ट को लेकर आरोप भाजपा व आरएसएस पर लगा दिया। उन्होने कहा कि ’मेरे फेसबुक अकाउंट को हैक कर यह फर्जी पोस्ट डाल दिया गया है। हालाकि आपको बता दे कि इस पोस्ट पर तबतक 150 से अधिक कमेंट आ चुके थे। और करीब 500 फालोअर्स लाइक भी कर चुके थे। वहीं इस पोस्अ को 25 से अधिक बार शेयर भी किया जा चुका था। तेज प्रताप ने फेसबुक के अपने वेरीफाइड पेज पर सोमवार की रात को करीब 7ः30 बजे यह पोस्ट डालीथी।

अपने पोस्ट में तेजप्रताप ने लिखा कि ’रविवार को महुआ विधानसभा क्षेत्र के दौरे के दौरान ‘टी विद तेज प्रताप’ आयोजित किया गया था।इसमें कार्यकर्ताओं ने सिर्फ एक समस्या गिनायी। वह थी कि तेज प्रताप को ओमप्रकाश यादव व सुबोध राय पागल और सनकी ही नहीं, अब जोरू के गुलाम के रूप में प्रचारित कर रहे हैं। उन्होंने आगे लिखा है कि राजनीति वही लोग करेंगे, जो उनकी छवि को धूमिल कर रहे हैं। अब ओम प्रकाश यादव उर्फ भुट्टू ही महुआ से चुनाव लड़ेगा और विधायक और फिर मंत्री बनेगा। आपको बताते चले कि इससे पहले तेजप्रताप यादव ने प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे के खिलाफ भी मोर्चा खोला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here