बीजेपी पर दबाव बना सके इस लिए नीतीश ने रचा पूरा प्रोपेगंडा: कौकब कादिरी

kaukab-kadri
kaukab-kadri
Advertisement

पटना। आगामी आम चुनाव 2019 में एनडीए के साथ बने रहेने के बयान के बाद कांग्रेस ने भी उन्हे महागठबंधन में शामिल होने को लेकर दिए गए अपने बयान से यू दर्न ले लिया है। कांग्रेस के केन्द्र से लेकर राज्य तक के बड़ें नेताओ ने यू टर्न लेते हुए नीतीश कुमा के लिए महागठबंधन में शामिल होने को लेकर नो वेलकम की बात कही है।

कल सोमवार को एक नीजी न्यूज चैनल से बात के दौरान बिहार कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि राजद उनका विश्वस्त सहयोगी है और नीतीश कुमार को वापस महागठबंधन में लेने का कोई सवाल हीं नहीं उठता है। वहीं उन्होने नीतीश कुमार के महागठबंधन में दुबारा आने की खबर को उनके द्वारा हीं रचा गया प्रोपगेंडा हीं बताया है। उन्होने कहा कि नीतीश को महागठबंधन में किसने न्योता दिया था, भाजपा पर जबाव बनाने के लिए नीतीश ने खुद प्रोपेगंडा किया था।

गौरतलब है जदयू महासचिव केसी त्यागी ने दिल्ली में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद कहा था कि बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल समेत कई कांग्रेस नेताओं ने नीतीश से महागठबंधन में शामिल होने की अपील की है, जिसके जबाव में उन्होंने कहा कि जब तक राष्ट्रीय जनता दल जैसी भ्रष्ट पार्टी पर कांग्रेस अपना स्टैंड क्लियर नहीं करती, तब तक जदयू उनके साथ कैसे जा सकती है?

हालांकि जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से पहले सीएम नीतीश ने पार्टी नेताओं के समक्ष साफ कर दिया था कि दोनों दलों के बीच गठबंधन बरकरार रहेगा और आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उन्होंने 17-17 सीटों पर लड़ने का फॉर्मूला भी दिया था।

ये भी पढ़े  सीएम नीतीश के फैन हो चलें है कांग्रेस के ये पांच बड़े नेता, जानिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here