लालू ने शिवजी को दिया हुआ वचन आज तोड़ दिया, और यह वादा भी

lalu_fish
lalu_fish
Advertisement

पटना : खाने पीने की शौकीन लोगो के साथ यह दिक्कत तो होता ही है. पिछले साल नवंबर में राजद प्रमुख लालू यादव ने वादा किया था कि अब मैं मांसाहार का सेवन नहीं करूंगा.

लेकिन जब समधी के घर से मछली भात का निमंत्रण आया तो लालू समधियाना पहुंच गए और जमकर मछली-भात खाया. मछली की बात हो तो लालू के लिए वादे का पालन करना मुश्किल हो जाता है, क्योंकि लालू यादव को मछली के बहुत पसंद हैं.

Advertisement

एैसा नहीं है कि यह वादा उन्होंने पहली बार नहीं तोड़ा है, इससे पहले भी लालू ने मांसाहार के छोड़ने का वादा किया था लेकिन निभा नहीं सके थे. लेकिन पिछली बार उन्होंने कहा था कि अब मुझे मांस मछली खाने का मन नहीं करता.

ये भी पढे़ं:-   रविवार सुबह सामने आए कई अपराधिक मामले, लूटपाट, हत्या व फायरिंग से दहला बिहार

बता दें कि लालू प्रसाद ने पिछले साल 7 नवंबर को अपने आवास पर आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान खुद के शाकाहारी होने की घोषणा की थी यही नहीं रूके थे यह भी कहा था कि शिवजी को वचन दिया हूं कि अब मांसाहार ग्रहण नहीं करूंगा. और अब तो उधर देखना भी छोड़ दिया हूं.

बता दें कि बेनामी संपत्ति के आरोपों से घिरे लालू प्रसाद और उनके परिवार को ज्योतिषी ने सलाह दी थी कि घर के बड़े को मांसाहार का त्याग करना चाहिए. तब ज्योतिष त्रिपाठी ने भी दावा किया था कि ‘लालू प्रसाद आचार-विचार से शाकाहारी हो चुके हैं और पूरी तन्मयता से शाकाहार का पालन कर रहे हैं’.

ये भी पढे़ं:-   पीएम मोदी ने किया देश के पहले 14 लेन एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन, जानिए क्या हैं इस एक्सप्रेस-वे की खासियत

लालू प्रसाद मांस मछली के बहुत शौकीन हैं. लालू प्रसाद को मांसाहार में सोन की मछली या बहते पानी की मछली बेहद पसंद है. वे खुद भी बड़े चाव से बनाकर इसे खाते रहे हैं। वहीं, शाकाहार में वे दही का मठ्ठा, लिट्टी-चोखा, चना व मकई एवं सांवा का सत्तू, खिचड़ी इत्यादि बड़े चाव से खाते हैं

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here