30 कार्ड धारियों के द्वारा राशन-किरासन नहीं लेने पर एसडीएम ने की कार्रवाई ।

sheohar news
Advertisement

मोहम्मद हसनैन की रिपोर्ट-

शिवहर जिला अंतर्गत तरियानी प्रखंड स्थित कुम्रहार पंचायत के 30 कार्डधारियों के द्वारा विगत 10 माह से खाद्यान्न एवं किरासन तेल का उठाव नहीं करने पर अनुमंडल पदाधिकारी मोहम्मद आफाक अहमद ने उसके नाम का खाद्यान्न को वैगत कर दिया है।
अनुमंडल पदाधिकारी मोहम्मद आफाक अहमद ने बताया है कि कुम्रहार पंचायत के लगभग 30 कार्ड धारियों के द्वारा
विगत 10 माह से खाद्यान्न एवं किरासन तेल का उठाव नहीं किया जा रहा था इस संबंध में कार्ड धारियों के द्वारा
सामूहिक रूप से एक आवेदन अनुमंडल लोक शिकायत निवारण कार्यालय में भी दिया गया था
आवेदन पत्र में कार्ड धारियों के द्वारा विक्रेता के विरुद्ध अनाज नहीं देने की शिकायत की गई इस संबंध में
पूर्व में जिला आपूर्ति पदाधिकारी शिवहर एवं अन्य पदाधिकारियों द्वारा जांच की गई थी ,
उक्त कार्ड धारियों को अपने समक्ष विक्रेता की दुकान से खाद्यान्न एवं किरासन तेल लेने हेतु सूचना दी गई
परंतु उक्त कार्ड धारियों के द्वारा अनाज एवं किरासन तेल का उठाव नहीं किया गया इस संबंध में प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी तरियानी के द्वारा भी विशेष रूप से जांच की गई थी।
अनुमंडल पदाधिकारी मोहम्मद आफाक अहमद ने उक्त मामले को संज्ञान लेते हुए प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी तरियानी एवं प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी पिपराढी को एक टीम गठित कर उक्त मामले की जांच करने का आदेश निर्गत किया गया। दोनों प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारियों ने जांच में पाया है कि कार्ड धारियों के द्वारा सामूहिक रूप से राजनीतिक तथा अन्य निजी विवाद के कारण अनाज एवं किरासन तेल का उठाव विगत 10 माह से नहीं किया जा रहा है।
जांच दल के द्वारा उक्त कार्डधारियों को उसी पंचायत के निकटतम जन वितरण विक्रेता प्रणाली विक्रेता से अनाज एवं किरासन उठाने का अनुशंसा की गई है
जांच दल ने स्पष्ट किया है कि कुम्रहार पंचायत के जन वितरण प्रणाली विक्रेता सत नारायण यादव की 30 कार्ड धारियों से जमीनी विवाद चल रहा है जिस कारण राशन-किरासन नहीं ले पा रहा है तथा डीलर पर न देने का आरोप लगा कर कारवाई करने का गुजारिश कर रहा है।
अनुमंडल पदाधिकारी मोहम्मद आफाक अहमद ने कार्रवाई करते हुए दूसरे डीलर के साथ टैग करने का आदेश निर्गत किए हैं उन्होंने यह भी स्पष्ट किया है कि इसके बाद भी अगर उक्त कार्ड धारियों के द्वारा खाद्यान्न एवं किरासन तेल का उठाव नहीं किया जाता है तो यह माना जाएगा कि उन कार्ड धारियों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत अनुदानित खाद्यान्न एवं किरासन तेल की आवश्यकता नहीं है।
अतः उक्त के आलोक में नियमानुसार अग्रतर कार्रवाई करने का आदेश निर्गत किया है वही जन वितरण प्रणाली विक्रेता सत नारायण यादव से इन 10 महीनों से अनाज को समायोजित करते हुए अगला आवंटन कम करने का निर्देश निर्गत किया है।