11, Dec, 2016
ब्रेकिंग न्यूज़

NEWS OF BIHAR

बिहार की बेटी ने यूनेस्को में लहराया मिथिला पेंटिंग का परचम

800x480_image584201964

समस्तीपुर, 28 सितम्बर। एक बार फिर बिहार की बेटी ने अपनी प्रतिभा से परचम लहराया है। हम बात कर रहे है समस्तीपुर की बेटी भारती दयाल की जिसने मिथिला पेंटिग्स के क्षेत्र में जिले का नाम विश्व के मानचित्र पर पहुंचाया है। पिछले दिनों भारत सरकार की ओर से भारती दयाल कल्चलर एंबेसडर बनकर यूनेस्को गयी थी। जहां उसने मिथिला पेंटिग्स में अपना दमखम दिखाया। शहर के काशीपुर निवासी स्व. विजय कुमार सिन्हा एवं श्रीमती इंदू सिंहा की बेटी भारती दयाल मिथिला पेंटिग्स के क्षेत्र में कई मुकाम हासिल कर चुकी है। उसकी पेंटिग्स को कई पुस्तकों के कवर पेज पर लगाया जा चुका है। वह इसकी मदद से बिहार की दो सौ महिलाओं को स्वरोजगार से भी जोड़ चुकी है।

आपको बताते चले कि वर्ष 2006 में राष्ट्रपति प्रतिभा सिंह पाटिल ने भारती दयाल को पुरस्कृत किया था। समस्तीपुर पहुंचने पर भारती दयाल ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि दो सितंबर को यूनेस्को में केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के साथ कल्चलर एंबेस्डर बनकर जाने का सौभाग्य मिला। जहां मिथिला पेंटिग्स के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि एनके सिंह एवं निश्चल स्ट्रेन द्वारा अंग्रेजी में लिखित पुस्तक द न्यू बिहार के कवर पेज में उनकी पेंटिग्स को लगाया गया है। जबकि फार्म ऑफ डिवोशन में कई पेंटिग्स को स्थान मिला।

इस पुस्तक में देशस्तर के नामचीन चित्रकार की पेंटिग्स को शामिल किया जाता है। उन्होंने बताया कि भारत के अलावा यूरोपियन कंट्री में दर्जन भर से अधिक स्थानों पर मिथिला पेंटिग्स की प्रदर्शन लगा चुकी है। उनके छोटे भाई प्रियंज समस्तीपुर में शिक्षण संस्थान चलाते हैं। जहां समय-समय पर आकर बच्चों को मिथिला पेंटिग्स की जानकारी दी जाती है।

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें  

 
 

newsofbihar.com की ख़बरें अपने न्यूज़फीड में पढ़ने के लिए पेज like करें

newsofbihar

अपने विचार साझा करें

आवश्यक लिखें चिह्नित:*

Powered By Indic IME