मॉनसून सत्र में शराबबंदी कानून संशोधन विधेयक पेश होगा “नीतीश कुमार”

Advertisement

पटनाः बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा लगाई गई शराबबंदी को दो साल पूरे हो गए हैं | लेकिन अभी भी बिहार में शराब की बिक्री घड़ले से हो रहे हैं | शायद बिहार में शराबबंदी कानून विफल होता दिख रहा है | ऐसे में अपनी साख बचाने के लिए नीतीश कुमार शराबबंदी कानून में कुछ बदलाव करने जा रहे हैं |

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि शराबबंदी कानून संशोधन विधेयक विधानमंडल के मॉनसून सत्र में पेश किया जाएगा। नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी कानून के जिन प्रावधानों का दुरुपयोग हो रहा है उसमें संशोधन होगा। उन्होंने जोर देकर कहा कि शराबबंदी के निर्णय से कोई समझौता नहीं करेंगे। चाहे कुछ भी हो जाए | हम अपने माता और बहनों की चेहरे पर से खुशी लुफ्त होते हुए नही देख सकते | जिस तरह से बिहार में शराबबंदी कानून लागू होने के बाद बिहार के उन गरीब परिवार के घरों में चूल्हा जला है जो कभी दो वक्त के लिए तरसते थे क्योंकि उनके घर के रखवाले शराबी थे | इस मुद्दे पर नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी कानून के एक-एक पहलू की समीक्षा हो रही है। सोमवार को पटना में वीपी सिंह की जयंती समारोह के एक कार्यक्रम में शिरकत करते हुए ये बाते कहीं |

नीतीश ने कहा है कि बिहार में शराबबंदी से माहौल बदल गया है | लोगों की चेहरे पर खुशी की लहर है | चंद लोग ऐसे होते हैं जो गड़बड़ करते हैं। सरकारी तंत्र से मिल कर गड़बड़ी करते हैं और कुछ लोग हैं जो बोलते रहते हैं, वो बोलने के आदी हैं। हम सुनते रहते हैं, हमें बोलने की आदत नहीं। लेकिन बिहार में शराबबंदी कानून से कोई समझौता नहीं होगा |

ये भी पढ़े  राहुल की तरह अज्ञातवास पर हैं तेजस्वी :- संजय सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here