वमपार्टियो की बैठक आयोजित, भारत बंद में आम जनो से सहयोग की अपील ।

public news
Advertisement

बरुण ठाकुर की रिपोर्ट-

वामपंथी पार्टी की संयुक्त बैठक सीपीआई जिला कार्यालय में कॉमरेड सुरेंद्र दयाल सुमन की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। बैठक में डीजल पेट्रोल रसोई गैस की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि राफेल डील घोटाला नफरत हिंसा एवं भेदभाव के खिलाफ मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के खिलाफ 10 सितंबर को आयोजित भारत बंद को सफल बनाने का आम नागरिक को बुद्धिजीवियों वाहन मालिकों, टैंपू रिक्शा तांगा ठेला चालकों व्यवसाइयों शिक्षण संस्थानों के संचालकों से आवाहन किया गया। वाम नेताओं ने बताया कि नरेंद्र मोदी ने पिछले चुनाव में महँगी, बेकारी, भ्रष्टाचार समाप्त करने तथा प्रति परिवार 15 लाख रुपया काला धन ला कर देने का नारा दिया था जबकि 4 वर्ष पूर्व 2014 में डीजल की कीमत 56 रुपैया पेट्रोल की कीमत 71 रुपया और रसोई गैस की कीमत 350 रुपया था आज डीजल 78 पेट्रोल 87 रसोई गैस 950 रुपया है। जबकि 2014 में फूड वाइल की कीमत106 डॉलर प्रति बैरल था और आज 77 डॉलर प्रति बैरल है। लगातार रुपए की कीमत गिरती जा रही है। महगाई आसमान छूटा जा रहा है। बेगारी बढ़ता जा रहा है भ्रष्टाचार का आलम यह है कि इस सरकार में पी एन बी घोटाला जैसे दर्जनों घोटाला का तांता लगा हुआ है । गरीबों दलितों अल्पसंख्यकों एवं आम नागरिक आज असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। आवाज उठाने वाले लोगों की हत्या एवं देशद्रोही कह कर उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है। देश अघोषित आपातकाल की दौर से गुजर रहा है। बैठक में सीपीआई के जिला सचिव नारायण जी झा, भाकपा माले के जिला सचिव बैद्यनाथ यादव, सीपीआईएम के गोपाल ठाकुर, एस यू सी आई सी के लाल कुमार एम सी पी आई के निरंजन कुमार, विश्वनाथ मिश्रा रामचंद्र साह, प्रिंस कुमार कर्ण, मणिकांत झा आदि नेताओं ने अपने विचार व्यक्त किए। बैठक से भारत बंद में दलितों पर सवर्ण मोर्चा के द्वारा हुए हमले की तीखी निंदा की गई तथा कॉमरेड धीरेन्द्र पासवान, कृष्णकांत सिंह के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त किया गया।