व्यवसायिक पार्टनर ने किया राजीव की हत्या-लूटी गई पैसे के साथ दो गिरफ्तार !

seohar, crome news
Advertisement

शिवहर जिले के श्यामपुर भाटा थाना क्षेत्र के फुलकाहा एवं रामधन के बीच 14 अगस्त 2018 की संध्या में रामबन के राजीव कुमार के पिता रामानंद राय को गोली मारकर हत्या कर देने के मामले में शिवहर पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार ने प्रेस वार्ता कर बताया है कि राजीव कुमार का हत्यारा उसका व्यावसायिक पार्टनर विनय पंडित ही निकला। रूपए एवं व्यवसाय के लालच में किया हत्या।

हत्या से पहले रचा साजिश और रुपए लूट की झूठी कहानी बनाया। गिरफ्तार अपराधियों ने अपना अपराध कबूला, लूट की रकम विनय पंडित के दोस्त दिलीप शाह के पास से बरामद किया गया ! हत्यारा विनय पंडीत साकीन बहुआरा एवं उसके साथ ही दिलीप साह भी गिरफ्तार किए गए हैं। पुलिस अधीक्षक सतोष कुमार ने प्रेस वार्ता कर बताया है कि श्यामपुर भटहा थाना के ग्राम फुलकाहा में 14 अगस्त की संध्या में ग्राम रामबन के राजीव कुमार को गोली लगने से जख्मी होने के उपरांत इलाज के लिए मुजफ्फरपुर ले जाने के क्रम में मृत्यु हो गई थी। इस बाबत मृतक के भाई संजीव कुमार ने श्यामपुर भटहा थाना में 15 अगस्त 2018 को प्राथमिकी दर्ज कराई था, जिसमें आर्म्स एक्ट दर्ज कराया 4 अज्ञात के विरुद्ध 3 लाख 26 हजार लूट लेने और राजीव कुमार को गोली मार देने से मृत्यु होने का आरोप लगाया गया था। पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार के नेतृत्व में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी शिवहर राकेश कुमार पुलिस निरीक्षक अशोक कुमार राय थानाध्यक्ष शिवहर, पुलिस अवर निरीक्षक सुजीत कुमार थानाध्यक्ष श्यामपुर भटहा सहित प्रभारी टेक्निकल सेल राजकुमार झा अपराध प्रवाचक सिपाही मनीष भारती, टेक्निकल सेल की टीम अनुसंधान प्रारंभ किया, मृतक राजीव के साथ मोटरसाइकिल से जा रहे विनय कुमार पंडीत जो राजीव का बिजनेस पार्टनर था पुलिस के सामने आने से कतराता रहा ।

 

seohar, news
विनायक कुमार पंडित की गतिविधि संदेहास्पद पाई गई पुलिस द्वारा उसे पूछताछ के लिए खोज की की जाती रही परंतु वह लगातार पुलिस के समक्ष आने से परहेज करता रहा काफी प्रयास के बाद विनय पंडीत पूछताछ के लिए उपलब्ध हुआ. पूछताछ करने पर उसने अपना अपराध स्वीकार किया और मृतक राजीव कुमार की हत्या रुपए और ग्राहक सेवा केंद्र के लालच में राजीव कुमार की हत्या करने की बात स्वीकार किया तथा रुपए लूट की फर्जी कहानी तैयार करने के बाद बताया प्राथमिकी में अंकित लूट की रकम की पुलिस के द्वारा दिलीप साह के यहां से बरामद कर लिया गया है। अनुसंधान एवं विनय कुमार से पूछताछ से यह मामला उजागर हुआ है कि मृतक राजीव कुमार विनय पंडित के साथ मिलकर पंजाब नेशनल बैंक एवं डीजीपे रामवन बाजार पर चला रहा था।  मृतक राजीव कुमार स्टेट बैंक का ग्राहक सेवा केंद्र लेना चाह रहा था विनय पंडित को लगा कि राजीव कुमार ग्राहक सेवा केंद्र मिल जाने पर उसे वहां से हटा देगा और उनका आय का स्रोत बंद हो जाएगा। इसी कारण से राजीव कुमार की हत्या करने की योजना बनाया और घटना के दिन 14 अगस्त को मृतक के साथ शिवहर से आया और अपने प्लान के अनुसार पंजाब नेशनल बैंक एवं स्टेट बैंक से रुपए निकासी कर शिवहर बैंक में जानबूझकर संध्या के समय के इंतजार में कुछ विलंब किया फिर कहतरवा चौक पर नाश्ता के बहाने कुछ विलंब किए और अंधेरा होने का इंतजार किया। और सूर्यास्त हो गया तो वहां से आगे बढ़ा और फुलकाहा बाजार से आगे सुनसान स्थान पर पेशाब करने के बहाने मोटरसाइकिल रोका और फिर राजीव कुमार को सीना में सटा कर गोली मार दिया और स्वयं वहां से भाग गया और हल्ला कर दिया की अपराधी ने राजीव कुमार को गोली मार दिया है तथा रुपैया भी लूट लिया है। इस तरह एक व्यावसायिक दोस्त ने ही अपने दोस्त को गोली मारकर हत्या कर दी है अनुसंधान के क्रम में दो लाख 86 हजार नगद रुपए ,एक लैपटॉप, 4 मोबाइल फोन को बरामद किया गया है तथा विनय पंडित पिता शंकर पंडित साकिन बहुआरा एवं दिलीप साह पिता सियाराम साहू बहुआरा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।।